एनसीसी क्या है NCC ज्वाइन कैसे करें जानिये पूरी जानकारी?

इस पोस्ट के माध्यम से आज हम बताएंगे एनसीसी क्या है NCC ज्वाइन कैसे करें जानिये पूरी जानकारी? what is ncc in hindi, how to join NCC, complete information in Hindi ,NCC in Hindi full information? वैसे यह तो आपको पता ही होगा कि एनसीसी हमारे देश भारत का वॉलंटरी संगठन है जिसके अंदर देश के हर कोने से छात्रों को भर्ती किया जाता है जो कि स्कूल या कॉलेज इत्यादि में पढ़ते हैं। अगर आप एनसीसी के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को सारा जरूर पढ़ें और सभी महत्वपूर्ण बातों की जानकारी हासिल करें जिससे कि आप अगर एनसीसी की ट्रेनिंग करना चाहते हैं तो आपको कोई समस्या ना हो।

एनसीसी क्या है NCC ज्वाइन कैसे करें
एनसीसी क्या है NCC ज्वाइन कैसे करें

एनसीसी का फुल फॉर्म (NCC Full Form)

एनसीसी का फुल फॉर्म यानी पूरा नाम नेशनल कैडेट कॉर्प्स (National Cadet corps) है और हिंदी में इसको राष्ट्रीय कैडेट कोर्प के नाम से जाना जाता है। एनसीसी के माध्यम से सभी छात्रों को सैन्य स्तर पर ट्रेनिंग दी जाती है जिससे कि उनको देश के प्रति जिम्मेदारी का एहसास कराने के साथ-साथ देश की सुरक्षा के प्रति भी जागरूक बनाया जा सके। इसीलिए एनसीसी ट्रेनिंग के दौरान इस बात पर विशेष तौर पर ध्यान दिया जाता है कि छात्रों को शारीरिक और मानसिक तौर पर काफी स्ट्रांग बनाया जा सके।

यह भी पढ़ें –

एनसीसी कैसे ज्वाइन करें (how to join NCC)

अगर कोई कैंडिडेट एनसीसी जॉइन करना चाहता है तो तब उसके लिए कम से कम उसकी उम्र 13 साल होनी चाहिए। वैसे आमतौर पर स्कूल के बच्चों को एनसीसी की ट्रेनिंग दी जाती है जहां पर उन बच्चों को उनकी आयु और स्कूल के अनुसार प्रशिक्षित किया जाता है। 13 साल तक के बच्चों को एनसीसी की जो ट्रेनिंग दी जाती है उसे जूनियर डिवीजन कहा जाता है जब बच्चे इसे पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद छात्र को सीनियर डिवीजन में एनसीसी की ट्रेनिंग कराई जाती है। इस प्रकार से जब छात्र अपने हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी कर लेता है तो तब ग्रेजुएशन के दौरान एनसीसी की 3 साल तक ट्रेनिंग भी ली जा सकती है। एनसीसी ट्रेनिंग से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातों की जानकारी निम्नलिखित है-

  • भारत में एनसीसी को प्रत्येक क्षेत्र के अनुसार कई यूनिट में बांटा गया है ताकि स्कूल के छात्रों और कॉलेज के छात्रों को उचित ट्रेनिंग दी जा सके।
  • यदि किसी स्कूल में एनसीसी की सुविधा नहीं है तो तब इच्छुक छात्र किसी एनसीसी कमांडिंग ऑफिसर की परमिशन लेकर किसी दूसरे विद्यालय में जाकर एनसीसी की ट्रेनिंग प्राप्त कर सकता है।

एनसीसी के कुछ जरूरी नियम (Rules and regulations for NCC)

  • हमेशा कैडेट को अनुशासन में रहना होता है।
  • मेहनत पर हमेशा बहुत ज्यादा जोर दिया जाता है।
  • हमेशा सच पर रहना चाहिए और सत्य का साथ कभी भी नहीं छोड़ना चाहिए।
  • हर साल नवंबर के महीने में एनसीसी दिवस मनाया जाता है और हर कैडेट को 2 साल में एक बार इसमें भाग लेना आवश्यक होता है।

यह भी पढ़ें –आईपीएस ऑफिसर (IPS Officer) कैसे बनें

एनसीसी के लिए योग्यता (NCC Eligibility)

  • छात्र अपने स्कूल के दौरान 13 वर्ष तक की उम्र में एनसीसी में भर्ती हो सकते हैं।
  • या इस कोर्स को करने के लिए उम्मीदवार ने किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 12वीं कक्षा पास की हो।
  • छात्र का चरित्र अच्छा होना चाहिए और साथ ही वे मेडिकली भी फिट हो।
  • जूनियर विंग में अप्लाई के लिए कैंडिडेट की आयु 13 साल से 18 साल तक की हो।
  • सीनियर विंग में अप्लाई करने के लिए आयु सीमा 26 साल से कम रखी गई है।
  • इस कोर्स भाग लेने के लिए यह आवश्यक है कि उम्मीदवार भारतीय नागरिक हो।

यह भी पढ़ें –स्टेशन हाउस ऑफिसर (SHO) कैसे बने ? जानिए

एनसीसी ट्रेनिंग कैंप (NCC training camp)

एनसीसी ट्रेनिंग कैंप बहुत सारे हैं जैसे कि –

  • ऑल इंडिया ट्रैकिंग कैंप
  • नौसेना कैंप
  • ऑल इंडिया माउंटेन ट्रेनिंग कैंप
  • वायु सेना कैंप
  • एडवेंचर ट्रेनिंग कैंप
  • थल सेना कैंप
  • रॉक स्लीपिंग कैंप
  • एनुअल ट्रेनिंग कैंप
  • नेवल विंग ट्रेनिंग
  • समाज सेवा गतिविधियां
  • करियर काउंसलिंग
  • पर्सनालिटी डेवलपमेंट
  • पैरा ट्रेनिंग कैंप

एनसीसी की ट्रेनिंग (NCC Training)

एनसीसी ने अपने शिक्षण को निम्नलिखित भागों में बांटा है जो कुछ इस प्रकार हैं-

  • कैंप ट्रेनिंग
  • इंस्टीट्यूशनल ट्रेनिंग
  • अटैचमेंट ट्रेनिंग
  • यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम
  • रिपब्लिक डे कैंप
  • कंडक्टर ऑफ एडवेंचर एक्टिविटी
  • फायरिंग, प्राचीन एवं रॉक क्लाइंबिंग पैरा जंप इन कैंप आदि।

यह भी पढ़ें –नेवी ऑफिसर (Navy Officer) कैसे बने

एनसीसी सर्टिफिकेट के फायदे (NCC C certificate benefits)

जिन छात्रों के पास एनसीसी सर्टिफिकेट होता है उन्हें इसके अंतर्गत अनेकों फायदे मिलते हैं जैसे कि-

  • नर्सिंग, क्लर्क और टेक्निकल पदों के लिए लिखित परीक्षा नहीं देनी होती है।
  • यदि कोई छात्र डायरेक्ट आर्मी में जाना चाहता है तो अगर उसके पास एनसीसी का सर्टिफिकेट है तो वह जा सकता है।
  • सेना का अफसर बनने के लिए भी एनसीसी का सर्टिफिकेट बहुत ही ज्यादा उपयोगी और महत्वपूर्ण होता है।
  • कैंडिडेट बिना प्रवेश परीक्षा के सेना में शामिल हो सकते हैं।
  • जिन छात्रों के पास एनसीसी का सर्टिफिकेट होता है उन्हें कई शिक्षा संस्थानों में एडमिशन के समय काफी छूट दी जाती है।
  • कोई कैंडिडेट अगर पुलिस में जाना चाहता है तो उस समय भी एनसीसी का सर्टिफिकेट काफी अधिक महत्वपूर्ण होता है।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल के द्वारा हमने आपको बताया एनसीसी क्या है NCC ज्वाइन कैसे करें जानिये पूरी जानकारी? what is ncc in hindi, how to join NCC, complete information in Hindi ,NCC in Hindi full information? और इसके बारे में सारी जानकारी दी जैसे कि-

  • एनसीसी का फुल फॉर्म (NCC Full Form)
  • एनसीसी कैसे ज्वाइन करें (how to join NCC)
  • एनसीसी के कुछ जरूरी नियम (Rules and regulations for NCC)
  • एनसीसी के लिए योग्यता (NCC Eligibility)
  • एनसीसी ट्रेनिंग कैंप (NCC training camp)
  • एनसीसी की ट्रेनिंग (NCC Training)
  • एनसीसी सर्टिफिकेट के फायदे (NCC C certificate benefits)

FAQ

Q: एनसीसी में भर्ती होने के लिए छात्र की कम से कम आयु कितनी होनी चाहिए?

Ans: एनसीसी में भर्ती होने के लिए छात्र की कम से कम आयु 13 वर्ष होनी चाहिए। अगर छात्र की आयु इससे कम है तो फिर उसे एनसीसी में भर्ती नहीं किया जाता।

Q: एनसीसी कराने का मकसद क्या है?

Ans: एनसीसी कराने का मकसद छात्रों में देशभक्ति की भावना भरने के साथ-साथ उनके चरित्र का भी संपूर्ण विकास किया जाता है जिसके अंतर्गत उनमें निम्नलिखित गुणों को स्थापित किया जाता है-

  • साहस भरना
  • देश प्रेम भावना भरना
  • देशवासियों के प्रति और देश के लिए निस्वार्थ सेवा भावना
  • देश के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझना
  • अनुशासन और एकता पर जोर देना
  • किसी मुश्किल परिस्थिति में संयम ना छोड़ना।

Q: एनसीसी के सर्टिफिकेट कितने प्रकार के होते हैं?

Ans: एनसीसी के सर्टिफिकेट 3 तरह के होते हैं जिनमें से ए  सर्टिफिकेट उन छात्रों को दिया जाता है जिनकी उम्र 15 साल तक होती है या फिर उससे कम होती है। इसी प्रकार बी सर्टिफिकेट उन छात्रों को दिया जाता है जो 11वीं कक्षा में पढ़ते हैं और यह तकरीबन 2 साल का होता है। इसी तरह से सी सर्टिफिकेट भी होता है जो उन छात्रों को दिया जाता है जो अपने ग्रेजुएशन के साथ-साथ एनसीसी ट्रेनिंग लेते हैं।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a

Leave a Comment