MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya- पूरी जानकारी

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya? एवं इससे जुड़ी हुई अन्य दूसरी जानकारी भी बताएँगे तो आप सभी हमारे इस आर्टिकल को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें।

MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya
MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya

MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya?

मोटरसाइकिल का आविष्कार किसने और कब किया था ?

जब साईकल को आविष्कार हुआ तो वैज्ञानिक इसे और ज्यादा आरामदायक बनाने में लग गए । वे एक ऐसा दुपहिया वाहन बनाने की कोशिश करने लगे जो एक इंजन की सहायता से चल सकता हो । हालांकि कुछ वर्षों के बाद ही इस मुकाम को हासिल कर लिया गया और हमे एक नया वाहन मिला जिसे मोटरसाइकिल कहा जाने लगा ।

मोटरसाइकिल  को मोटरबाइक या बाइक भी कहते हैं क्योंकि मोटरसाइकल मोटर से चलने वाली साइकिल है और इसे साइकिल के डिजाइन को देख कर ही बनाया गया था और आज मोटरसाइकिल इतनी पोपुलर हो चुकी है की लगभग सभी  घरो में एक बाइक मिल ही जाएगी जिस तरह पहले साइकिल का इस्तेमाल किया जाता था उसी तरह आज मोटरसाइकिल का इस्तेमाल किया जा रहा है लोगो के पास समय की कमी हो  गेई और दिनभर के बहुत से काम के लिए इधर उधर जाना पड़ता है तो समय की बचत और जल्दी काम करने के लिए मोटरसाइकिल का इस्तेमाल किया जाता है और दिनभर  इसकी मांग बढती जा रही है ।

आज लोग केवल काम के लिए ही बल्कि शोंक के लिए भी बाइक रखते है और मोटरसाइकिल आज सबसे ज्यादा बिकने वाला साधन था और विकासशील देशो मे इन की बिक्री अन्य किसी भी वाहन से ज्यादा होती है क्योकि विकासशील देशों में, कम कीमतों और अधिक ईंधन अर्थव्यवस्था के कारण मोटरसाइकिल भारी उपयोगितापूर्ण हैं। लेकिन जिस तरह मोटरसाइकिल की तदात बड़ी उसी तरह ही इसके नुकसान भी बड़े क्योकि इनकी कीमत और साधन से कम से इसे लोग ज्यादा से ज्यादा खरीदने लगे

और ज्यादा पेट्रोल की खपत के कारन  प्रदूषण में बदोतरी हुई लेकिन इसके लिए पीछे ही सरकार ने नये कानून के तहत बाइक के इंजन  के अंदर बदलाव किये Bs-4 इंजन का इस्तेमाल करना जरूरी किया क्योकि पहले इनके अंदर Bs-3 इंजन लगते थे  जो ज्यादा प्रदूषण करते थे और कंपनियों ने प्रदूषण को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक बाइक भी बनाना शुरू कर दिया है

आज मार्केट के अंदर बहुत खूब बहुत सही इलेक्ट्रॉनिक बाइक मौजूद है और अलग अलग  काम के लिए  अलग अलग तरह की बाइक है जैसे ; लंबी दूरी की यात्रा, परिवहन, दौड़ना, रेसिंग  खेल, और ऑफ-रोड सवारी आदि मोटरसाइकिलिंग मोटरसाइकिल और मोटरसाइकिल क्लब में भाग लेने और मोटरसाइकिल रैलियों में भाग लेने जैसी सामाजिक गतिविधियों में भी इनका इस्तेमाल किया जाता है ।

आज हमारे पास अनेको ऐसी ऐसी मोटरसाइकिल है जिन्हें देखकर कोई भी दांतो तले अंगुली दबा ले । आज यह हमारे साथ इस प्रकार घुल मिल गई है कि जैसे ये कोई यंत्र ना होकर एक परिवार का सदस्य ही हो ।

आज हमारी अधिकतर दूरियों को हम मोटरसाइकिल से ही करना पसन्द करते है । यह एक छोटा सा ऐसा साधन है जिसे हम कही भी आसानी से ले जा सकते है । फिर चाहे वह सड़क हो , या फिर कोई पथरीला रास्ता । यह हर जगह जाने में पूर्ण तरीके से सक्षम है ।

मोटरसाइकिल क्या है –

यह एक दुपहिया वाहन है । जो दिखता तो साईकल की तरह है लेकिन इसे साईकल की तरह पैडल मारकर नही चलाया जाता है । इसे चलाने के लिए शारीरिक ऊर्जा की आवश्यकता नही पड़ती बल्कि इसे चलाने के लिए यांत्रिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है । जिसे पेट्रोल या डीजल की सहायता से प्राप्त किया जाता है ।

इसमे पेट्रोल डीजल की सहायता से यांत्रिक ऊर्जा में बदलने के लिए इसमे इंजन को काम लिया जाता है ।

इसे जरूर पढ़ें –

मोटरसाइकिल का आविष्कार कब व कैसे हुआ –

दुनिया की पहली मोटरसाइकिल को बनाया था जर्मनी के इंजीनियर और उद्योगपति गोटलिब विल्हेम डेमलर ने । उन्होंने इसे अपने एक साथ विल्हेम मेबैक के साथ मिलकर 1885 में इसे तैयार किया था ।

उस मोटरसाइकिल का डिजाइन  बिल्कुल आज की साईकल के जैसे ही था । बस अंतर इतना ही था कि इसके बीच मे एक इंटरनल कम्बशन इंजन लगा हुआ था ।

डेमलर ने अपनी बनाई इस मशीन को दा रैटवेगान नाम दिया था । जिसका शब्दिक अर्थ है – सवारी कार  ।

देखा जाए तो उनके लिए यह किसी सवारी कर से कम नही थी क्योकि इसकी सहायता से वे बिना किसी विशेष शारीरिक श्रम के ही एक स्थान से दूसरे स्थान की यात्रा बहुत ही आसानी से और कम समय मे कर सकते थे ।

पहली मोटरसाइकिल से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य –

1. दुनिया की पहली मोटरसाइकिल को इंसपुर भी कहा जाता था जिसका अर्थ होता है – सिंघल ट्रैक

2 . इसमें लगे इंजन को पेट्रोल की सहायता से चलाया जाता था और इसके इंजन का नाम ग्रैंडफादर क्लॉक था ।

3 . यह एक 264 सी सी ताकत का इंजन था ।

4 . दुनिया की पहली मोटरसाइकिल लकड़ी की सहायता से बनाई गई थी ।

5 . यह मोटरसाइकिल एक घण्टे में 11 किलोमीटर तक का सफर तय कर सकती थी क्योकि इसकी अधिकतम गति 11 किलोमीटर प्रति घंटा थी ।

6 . इस मोटरसाइकिल के दोनों पहिये भी लकड़ी के ही बनाये गए थे जिनपर लोहे की पतली पट्टी लगाई गई थी ।

7 . इस मोटरसायकिल में सिर्फ पीछे के पहिये में ब्रेक का इस्तेमाल किया गया था । आगे के पहिये में किसी प्रकार के ब्रेक का इस्तेमाल नही किया गया था । इस मोटरसायकिल का वजन सिर्फ 90 किलोग्राम था ।

8 . इसे बनाने के लिए किसी कारखाने का इस्तेमाल नही किया गया था बल्कि इसे जर्मनी के एक छोटे से वर्कशॉप में तैयार किया गया था ।

मोटरसाइकिल की दुनिया के कुछ मजेदार और रोचक तथ्य –

1 . दुनिया मे आम लोगो के लिए पहली बार 1894 में मोटरसाइकिल बनाई गई थी । जिसका नाम हिलदेब्रांड एंड वोल्फमुलर था ।

2 . इंग्लैंड की प्रसिद्ध मोटरसाइकिल कम्पनी रॉयल एनफील्ड ने अपनी पहली मोटरसाइकिल सन 1901 में बनाई थी । इस कम्पनी का बुलेट मोडल आज तक सबसे ज्यादा चलने वाला मोडल है और यह आज भी लोगो की पहली पसन्द बना हुआ है ।

इसका इंजन 239 सी सी का था । आज यह भारत के अधिकार क्षेत्र की कम्पनी है ।

3 . अमेरिका की प्रसिद्ध मोटरसाइकिल कम्पनी हार्ले डेविसन की स्थापना सन 1903 में हुई थी । जिसे आज 117 साल हो चुके है ।

4 . फोर्ब्स मैगजीन के मालिक मैल्कम फोर्ब्स के पास  50 से भी ज्यादा कीमती हार्ले डेविसन का अद्भुत संग्रह है ।

5 . दोस्तो आपकी जानकरी के लिए आपको बता दूं कि 24 घण्टे में मोटरसाइकिल से सबसे लंबी दूरी तय करने का रिकॉर्ड अमेरिका के कार्ल रिज के पास है । जिन्होंने 26 फरवरी 2017 को लगातार 24 घंटे चलकर 3406.17 किलोमीटर की दूरी तय की थी ।

6 .  1884 में पहली बार एक अंग्रेज अविष्कारक एडवर्ड बटलर ने मोटरसाइकिल शब्द का प्रयोग किया था । उन्होंने ये नाम अपने द्वारा बनाये हुए तीन पहिया वाहन के लिए किया था । लेकिन यह शब्द ही आगे चलकर काम आने लगा ।

7 . दुनिया की 10 सबसे बड़ी मोटरसाइकिल निर्माता कम्पनियां निम्न है

1 . हौंडा

2 . यामाहा

3 . हीरो मोटोकॉर्प

4 . बजाज

5 . टी वी एस

6 . सुजुकी

7 . बी एम डब्ल्यू

8 . रॉयल एनफील्ड

9 . के टी एम

10 . पियाजियो

8 . अकेले भारत मे 2.18 करोड़ मोटरसाइकिल सिर्फ 2019 में बिकी थी ।

9 .भारत मे पहली बार मोटरसाइकिल भारत सरकार द्वारा सेना के लिए खरीदी गई थी । यह 1955 में खरीदी गई थी और यह रॉयल एनफील्ड कम्पनी की मोटरसाइकिल थी ।  जिंसमे 350 सी सी का इंजन लगा हुआ था ।

दुनिया की सबसे तेज मोटरसाइकिल –

दोस्तो अगर बात करे दुनिया की सबसे तेज दौड़ने वाली मोटरसाइकिल की तो पहले नम्बर पर कावासाकी निंजा एच 2 आर है । जिसकी अधिकतम गति 400 किलोमीटर प्रति घण्टे है । इसमे 998 सी सी का बहुत ही शक्तिशाली इंजन लगा हुआ है । कावासाकी एक जापानी कम्पनी है ।

निष्कर्ष  –

दोस्तो हमारे द्वारा आपको MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya? जो जानकारी उपलब्ध करवाई गई है वह कैसी लगी इसके बारे में जरूर बताना । यदि आपको MotorCycle Ka Avishkar Kisne Kiya? यह जानकारी  अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर साझा करें । इससे जुड़े आपके कोई भी सवाल हो तो आप हमसे पूछ सकते है ।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a

Leave a Comment