MBA क्या है , MBA कैसे करें पूरी जानकारी ?

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएंगे MBA क्या है? MBA कैसे करें पूरी जानकारी? (What is MBA, how to do MBA complete information in Hindi) अब हर छात्र यही चाहता है कि वह कोई ऐसा प्रोफेशनल कोर्स करें जिससे कि उसे नौकरी के लिए बिल्कुल भी भटकना ना पड़े।

इसीलिए वर्तमान में बिजनेस मैनेजमेंट में बहुत सारे विद्यार्थी अपना भविष्य बनाना पसंद करते हैं और इसीलिए अब कैंडिडेट्स का सबसे फेवरेट एमबीए कोर्स बना हुआ है।

इसीलिए छात्र ग्रेजुएशन करने के बाद एमबीए जैसे पोस्टग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन लेते हैं। यदि आप भी इस इंडस्ट्री में जाना चाहते हैं तो इसके लिए आप हमारे आज के इस पोस्ट को सारा जरूर पढ़ें और जानें पूरी प्रक्रिया के बारे में।

MBA क्या है MBA कैसे करें
MBA क्या है MBA कैसे करें

एमबीए क्या है (What is MBA in Hindi)

एमबीए का पूरा नाम मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन है जो कि एक पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री कोर्स है जिसकी अवधि 2 साल की होती है। इस कोर्स में वही छात्र अधिकतर दाखिला लेते हैं जो बिजनेस की फील्ड में जाने के इच्छुक होते हैं। इसमें कैंडिडेट को बिजनेस से संबंधित सारी जानकारियां दी जाती हैं और उन्हें ट्रेनिंग दी जाती है जिसके बाद वह उद्योग क्षेत्र में कामयाबी के साथ अपना कैरियर बना सकते हैं। एमबीए करने के बाद विद्यार्थी के सामने देश विदेश में काम करने के अच्छे अवसर उपलब्ध हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें –

एमबीए कोर्स की प्रवेश परीक्षा (MBA Entrance Exam)

एमबीए करने के लिए छात्रों को नेशनल लेवल या फिर स्टेट लेवल के एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेना होता है और जब वह उस में सफल हो जाते हैं तो तब उन्हें देश के टॉप मैनेजमेंट कॉलेजों में एडमिशन मिल जाता है जहां पर उन्हें कॉरपोरेट सेक्टर से रूबरू कराया जाता है और उन्हें बिजनेस वर्ल्ड के बारे में श्रेष्ठ ट्रेनिंग दी जाती है जिससे कि कैंडिडेट बिजनेस की सभी बारीकियों को ठीक प्रकार से समझ सकें। एमबीए के लिए जो सबसे प्रचलित प्रवेश परीक्षाएं हैं उनके बारे में जानकारी निम्नलिखित हैं –

  • कैट (CAT)
  • मैट (MAT)
  • सीएमएटी (CMAT)
  • एटीएमए (ATMA)
  • एमएएच-सीईटी (MAH-CET)
  • केएमएटी (KMAT)
  • टीएएनसीईटी (TANCET)
  • एपीआई सीईटी (APICET)
  • आईआईएफटी (IIFT)
  • एक्सएटी (XAT)
  • एनएमएटी (NMAT)
  • एसएनपी (SNAP)
  • आईबीएसएटी (IBSAT)

एमबीए करने के लिए योग्यता (MBA Course Eligibility)

एमबीए करने के लिए छात्र में जो योग्यता होनी चाहिए उसकी जानकारी निम्नलिखित है-

  • विद्यार्थी ने किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन किया हो।
  • कैंडिडेट के ग्रेजुएशन में कम से कम 60% अंक होने चाहिए।
  • स्टूडेंट ने प्रवेश परीक्षा पास की हो।

एमबीए प्रवेश प्रक्रिया (MBA Course Process)

जो छात्र एमबीए करने में इंटरेस्ट रखते हैं उन्हें चाहिए कि सबसे पहले वह यह जानें कि वह प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए योग्यता रखते हैं या नहीं। इसके बाद कैंडिडेट को चाहिए कि इसके लिए कंडक्ट कराई जाने वाली परीक्षा में शामिल हों और इस प्रकार टेस्ट में पास होने के बाद ही उसे एमबीए कोर्स में प्रवेश मिल जाता है।

एमबीए के सब्जेक्ट (MBA Subjects)

एमबीए करने के लिए केवल एक ही सब्जेक्ट नहीं है क्योंकि यह एक बहुत ही विस्तृत और विशाल इंडस्ट्री है जिसमें बहुत सारे पाठ्यक्रम है जहां पर छात्र अपनी रुचि के मुताबिक सब्जेक्ट चुन सकते हैं जैसे कि-

  • फाइनेंस
  • ऑयल एंड गैस
  • मार्केटिंग
  • एडवरटाइजिंग
  • एग्रीकल्चर एंड फूड बिजनेस
  • सेल्स
  • एंटरप्रेन्योरशिप
  • बिजनेस इकोनॉमिक्स
  • मैटेरियल मैनेजमेंट
  • ह्यूमन रिसोर्स
  • डिजिटल मार्केटिंग
  • बिजनेस एनालिटिक्स
  • इंटरनेशनल बिजनेस
  • ऑपरेशन
  • प्रोडक्ट मैनेजर
  • हेल्थ केयर एंड हॉस्पिटल
  • इंपोर्ट एंड एक्सपोर्ट
  • एनर्जी एंड एनवायरमेंट
  • डिजास्टर मैनेजमेंट
  • आईटी एंड सिस्टम

भारत के टॉप एमबीए कॉलेज (Top MBA college in India)

भारत में एमबीए करने के लिए बहुत सारे इंस्टिट्यूट है जिनमें छात्रों को केवल एंट्रेंस एग्जाम के बाद ही दाखिला मिलता है जैसे कि-

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट इंदौर (Indian Institute of Management Indore)
  • जेवियर स्कूल ऑफ मैनेजमेंट (Xavier School of Management)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट लखनऊ (Institute of Management Lucknow)
  • जयपुरिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट (Jaipuria Institute of Management)
  • आईआईएम कोलकाता (IIM Kolkata)
  • आईआईएम अहमदाबाद (IIM Ahmedabad)
  • आईआईटी खरगपुर (IIT Kharagpur)
  • मैनेजमेंट एंड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट गुड़गांव (Management and Development Institute Gurgaon)
  • क्रिस्ट यूनिवर्सिटी (Christ University Bangalore)
  • भारती विद्यापीठ यूनिवर्सिटी पुणे (Bharati Vidyapeeth University Pune)
  • पेसिफिक यूनिवर्सिटी उदयपुर (Pacific University Udaipur)

एमबीए कोर्स की फीस (MBA course Fees)

एमबीए कोर्स की फीस डिपेंड करती है कि छात्र इस कोर्स को प्राइवेट कॉलेज से कर रहा है या फिर सरकारी कॉलेज से। हर कॉलेज में फीस अलग-अलग होती है जो कि कॉलेज के अलावा सब्जेक्ट के ऊपर भी निर्धारित होती है।

एमबीए कोर्स करने के बाद कैरियर (Carrier after MBA  Program)

एमबीए कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को कॉरपोरेट वर्ल्ड की ठीक प्रकार से और बेहतरीन तरीके से जानकारी हासिल हो जाती है जिसकी वजह से उसे उद्योग इंडस्ट्री में बहुत अच्छी सैलरी पर नौकरी करने का अवसर मिल जाता है। एमबीए कोर्स के लिए जो टॉप कॉलेज हैं वहां पर छात्रों को प्लेसमेंट सेल के द्वारा अच्छी कंपनियों में जॉब मिल जाती है। इस प्रकार छात्र को आईटी इंडस्ट्री, ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री, फूड एंड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री, बैंकिंग, हेल्थ एंड एजुकेशन सेक्टर इत्यादि में अनेकों काम करने के चांस मिल जाते हैं। इसके अलावा छात्रों को विदेशों में भी नौकरी करने के मौके उपलब्ध होते हैं जहां पर उन्हें वेतन भी काफी आकर्षक मिलता है।

एमबीए करने के फायदे (MBA benefits)

  • एमबीए करने के दौरान छात्रों को बिजनेस इंडस्ट्री का बहुत ही अच्छा ज्ञान हो जाता है जिसकी वजह से कैंडिडेट चाहे तो अपना स्वयं का भी स्टार्टअप शुरू कर सकते हैं।
  • कैंडिडेट को एमबीए करने के बाद मल्टीपल कैरियर ऑप्शन मिलते हैं जैसे कि फाइनेंसिंग, ई-कॉमर्स, कंसलटिंग इत्यादि।
  • विद्यार्थी को उद्योग क्षेत्र में उतरने के लिए पूरी तरह से ट्रेन्ड कर दिया जाता है जिसकी वजह से उसके बिजनेस वर्ल्ड में सफल होने के चांस अधिक होते है।

एमबीए कोर्स करने के बाद सैलरी (Salary after MBA course)

जब कैंडिडेट अपना एमबीए कोर्स सफलतापूर्वक पूरा कर लेते हैं तो तब उसके बाद उन्हें बेहद अट्रैक्टिव वेतनमान मिलता है क्योंकि उनको नौकरी करने के अवसर नामी कंपनियों में मिलते हैं। इसीलिए उनकी सैलरी सालाना 10 लाख से लेकर 15 लाख रुपए तक हो सकती है। इसके अलावा जब कैंडिडेट एक्सपीरियंस हासिल कर लेता है तो तब उसके सैलरी पैकेज में भी वृद्धि हो जाती है।

FAQ

Q: एमबीए कैसे करें?

Ans: इसके लिए सबसे पहले छात्र को अपनी ग्रेजुएशन करनी होगी और उसके बाद उसे एंट्रेंस एग्जाम में भाग लेना पड़ेगा। जिसमें अगर वह सक्सेसफुल हो जाता है तो उसके बाद उसे 2 वर्ष के एमबीए के पाठ्यक्रम में एडमिशन मिल जाता है।

Q: एमबीए कितने साल का कोर्स है?

Ans: एमबीए 2 साल का कोर्स है जिसमें हर सेमेस्टर 6 महीने का होता है। इस प्रकार से इस के पूरे पाठ्यक्रम में 4 सेमेस्टर होते हैं जिनमें छात्रों को उनकी पसंद के विषय में पूरी जानकारी दी जाती है।

Q: क्या डिस्टेंस माध्यम से एमबीए किया जा सकता है?

Ans: जी हां डिस्टेंस माध्यम से भी एमबीए किया जा सकता है। इसलिए अगर कोई छात्र किसी भी कारणवश रेगुलर कॉलेज में दाखिला नहीं ले पाते हैं तो तब वह अपने एमबीए के कोर्स की पढ़ाई डिस्टेंस से भी कर सकते हैं।

Q: एमबीए कोर्स के लिए सबसे प्रसिद्ध प्रवेश परीक्षा कौन सी है?

Ans: हालांकि एमबीए के लिए हमारे देश में बड़े पैमाने पर नेशनल और राज्य स्तर पर प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करवाई जाती हैं। लेकिन कैट (CAT) एमबीए के लिए सबसे ज्यादा जाना माना और प्रसिद्ध एंट्रेंस टेस्ट माना जाता है जिसमें भारी मात्रा में देशभर के छात्र भाग लेते हैं।

Q: क्या बीबीए के बाद एमबीए किया जा सकता है?

Ans: जी हां, बीबीए के बाद कैंडिडेट एमबीए कर सकते हैं।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a