HSC Full Form-एचयससी का फुल फॉर्म क्या है ?

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे HSC Full Form के बारे में संपूर्ण जानकारी। ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिनको यही नहीं पता कि HSC किसे कहते हैं और इस का फुल फॉर्म क्या होता है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको HSC Full Form के बारे में बताएंगे ताकि आपको इसको लेकर किसी प्रकार की कोई दुविधा न रहे। इसलिए इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़िएगा।HSC Full Form क्या है?

HSC Full Form क्या है

HSC Full Form क्या है

सबसे पहले हम आपको बता दें कि HSC Full Form  क्या है। HSC  की फुल फॉर्म हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट (Higher Secondary Certificate) है जिसे इंग्लिश में उच्च माध्यमिक प्रमाणपत्र कहते हैं। यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आम बोलचाल में बारहवीं कक्षा को ही हायर सेकेंडरी कहते हैं। बता दें कि जब कोई छात्र 12वीं कक्षा पास कर लेता है तो तब यह सर्टिफिकेट उस छात्र को दिया जाता है।

HSC  का महत्व और आवश्यकता

हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट की आवश्यकता हर छात्र को होती है क्योंकि इस सर्टिफिकेट को प्राप्त करने के बाद ही वह अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकता है। आमतौर पर 12वीं कक्षा का पास करने के बाद विद्यार्थी विभिन्न प्रकार के एंट्रेंस एग्जाम देते हैं ताकि किसी अपनी पसंदीदा फील्ड में अपना कैरियर बना सकें। अगर किसी छात्र ने हाई सेकेंडरी पास नहीं किया होगा तो उसे फिर किसी भी परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा। इसलिए विद्यार्थी की आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए 12वीं कक्षा उत्तीर्ण सर्टिफिकेट का अत्यधिक महत्व है।

HSC  भारत में बोर्ड

भारत में सीबीएसई के अलावा ऐसे दूसरे अन्य बोर्ड भी हैं जहां से कोई भी छात्र अपनी 12वीं की कक्षा की पढ़ाई पूरा करने और परीक्षा पास करने के बाद हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट प्राप्त करता है जैसे एनआईओएस (NIOS), यूपी बोर्ड (UP Board), एमपी बोर्ड (MP Board), महाराष्ट्र बोर्ड (Maharashtra Board), बिहार बोर्ड (Bihar Board), आईएससी बोर्ड (ISSC Board) इत्यादि। इसके अलावा आपको यह भी बता दें कि यह परीक्षा भारत के अलावा पाकिस्तान और बांग्लादेश में भी ली जाती है और जो छात्र इस परीक्षा को पास कर लेते हैं उन्हें हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट दिया जाता है।

HSC  के फायदे क्या क्या है

किसी भी छात्र के लिए हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है इसके फायदे इस प्रकार से हैं-

  • छात्रों को आगे पढ़ाई करने के लिए हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट की आवश्यकता होती है।
  • विभिन्न प्रकार के संस्थानों में यदि कोई छात्र दाखिला लेना चाहता है तो उसके लिए भी HSC का सर्टिफिकेट चाहिए होगा।
  • बहुत सारे ऐसे छात्र भी होते हैं जो पॉलिटेक्निक या फिर किसी ट्रेनिंग प्रोग्राम में एडमिशन ले कर अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो उनके पास भी 12वीं का सर्टिफिकेट होना आवश्यक है।
  • विभिन्न प्रकार की प्रवेश परीक्षाएं बारहवीं कक्षा के पाठ्यक्रम के ऊपर ही आधारित होती है। इसलिए बारहवीं कक्षा छात्रों के लिए काफी महत्व रखती है।
  • हर छात्र का यह सपना होता है कि वह 12वीं कक्षा पास करने के बाद डॉक्टर, इंजीनियर, फैशन डिजाइनर, आईपीएस ऑफिसर इत्यादि बने। लेकिन यह तभी संभव है जब वह हायर सेकेंडरी एजुकेशन में पास होकर उसका सर्टिफिकेट हासिल कर लेता है।

HSC Subjects

HSC  में निम्नलिखित विषय सबसे अधिक प्रमुख और पॉपुलर है-

  • बायोलॉजी (Biology)
  • केमिस्ट्री (Chemistry)
  • फिजिक्स (Physics)
  • मैथमेटिक्स (Mathematics)
  • हिस्ट्री (History)
  • ज्योग्राफी (Geography)
  • एग्रीकल्चर (Agriculture)
  • एकाउंटिंग (Accounting)

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको बताया HSC Full Form  क्या है। इसके साथ-साथ हमने आपको यह भी जानकारी दी कि भारत में विभिन्न हायर सेकेंडरी सर्टिफिकेट देने वाले अन्य बोर्ड और कौन-कौन से हैं। साथ ही हमने आपको एचएससी के फायदे और महत्व के बारे में भी जानकारी दी। हमें पूरी उम्मीद है कि यह आर्टिकल आपके लिए काफी हेल्पफुल रहेगा। इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें।

Leave a Comment