FPO Full Form – एफपीओ फुल फॉर्म क्या है ?

नमस्कार! दोस्तों आज इस आर्टिकल में हम आपको FPO Full Form के बारे में जानकारी देने वाले हैं और साथ ही हम यह भी बताएंगे इसको हिंदी में क्या कहते हैं। वैसे आपने यह नाम सुना अवश्य होगा लेकिन आपको अगर इसका मतलब नहीं पता है और आप इसके बारे में जानकारी ढूंढ रहे हैं तो हमारे इस आर्टिकल में आपको इससे संबंधित सारी जानकारी मिल जाएगी इसलिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।

FPO FULL FORM
FPO FULL FORM

FPO Full Form – एफपीओ फुल फॉर्म क्या है ?

FPO  का फुल फॉर्म है फ्रूट प्रोडक्ट्स ऑर्डर (Fruit Products Order) और इसको हिंदी में फलों के उत्पादक का आर्डर कहते हैं। बता दें कि यह एक प्रकार का चिन्ह है जो उन पदार्थों पर लगा होता है जिन का उत्पादन फलों के इस्तेमाल से किया जाता है।

FPO  चिंह क्या है ?

सबसे पहले आपको जानकारी के लिए बता दें कि यह एक मानक चिन्ह है जो फलों से बनाए गए खाद्य पदार्थों के डिब्बों के बाहर बना होता है और इस चिंह के माध्यम से यह बताया जाता है कि प्रोडक्ट स्वच्छ वातावरण में और गुणवत्तापूर्ण तरीकों से बनाया गया है। साथ ही यह भी जान लें कि यह चिंह भारत में 1955 में लागू किया गया था। इसके अलावा 2006 में इसको सभी फलों के उत्पादन के लिए अनिवार्य घोषित कर दिया गया था। इसलिए अगर कभी आप किसी फ्रूट से बने हुए खाद्य पदार्थ पर चिन्ह को ना देखें तो उस प्रोडक्ट को बिल्कुल भी नहीं खरीदें। 

FPO  के अंतर्गत आने वाले खाद्य पदार्थ

जैसा कि हमने बताया कि जो खाद्य पदार्थ फलों के प्रयोग करके बनाए जाते हैं उनकी स्वच्छता और गुणवत्ता को दर्शाने के लिए ही फ्रूट प्रोडक्ट्स ऑर्डर के निशान का प्रयोग किया जाता है। अगर आपने ध्यान दिया हो तो आपको यह निशान अकसर फलों से बने हुए खाद्य पदार्थों पर जरूर देखने को मिला होगा लेकिन यदि आपने इस निशान को नहीं देखा है तो हम आपको बता देते हैं कि किन-किन खाद्य पदार्थों पर आपको यह चिन्ह देखने को मिल सकता है-

  • सभी प्रकार के जैम
  • स्क्वैश की बोतल
  • फ्रूट जेली
  • विभिन्न फ्रूट जूस इत्यादि।

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको यह बताया कि FPO Full Form  क्या होता है और इस को हिंदी में क्या कहते हैं। इसके साथ साथ हमने आपको इससे संबंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भी बताई है जो कि आपके लिए काफी उपयोगी रहेगी। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल लाभदायक और अच्छा लगा हो तो इस आर्टिकल को सोशल मीडिया पर अन्य लोगों के साथ भी शेयर करना ना भूलें। ताकि अन्य लोगों तक भी सही जानकारी पहुंच सके।

यह भी पढ़ें –

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a

Leave a Comment