CoronaVirus क्या है? CoronaVirus के लक्षण क्या है? CoronaVirus से कैसे बचे

CoronaVirus क्या है? करोना वायरस  वायरस का एक बहुत बाद ग्रुप होता है । ये वायरस कुछ जानवरों में पाए जाते है ,वैज्ञानिक इस वायरस को ज़ूनोटिक  कहते है ,

इसका मतलब है की ये वायरस जानवरों से इंसानो में संचारित होता है जो इंसानो में सामान्य जुकाम से लेकर रेस्पीरेस सिस्टम यानि स्वशन तंत्र की गंभीर समस्या तक पैदा कर सकता है ,करवा का नाम  लेटिन शब्द करना से लय गया है  जिसका मतलब होता है क्राउन  यानि सर का ताज इस वायरस  का नाम इसके के दिखने वाले रूप के  नाम पर रखा गया है , ये दिखने में एक ताज की तरह दिखता है  जैसे की किसी राजा का ताज होता है ।

CoronaVirus क्या है? करोना  वायरस का लक्षण  निमोनिया की तरह है  जिसमे सर्दी जुखाम और बुखार होता है ,वैज्ञानिको के मुताबिक करो ना वायरस कोई एक वायरस नहीं है बल्कि यह विरूसस का एक बहुत बाद ग्रुप है जिसमे  ज्यादा तर वायरस इतने खतरनाक नहीं होते है लेकिन करो ना के कुछ वायरस इसे भी है जो बहुत गंभीर बीमारी पैदा कर सकते है

CoronaVirus क्या है। CoronaVirus के लक्षण क्या है। CoronaVirus से कैसे बचे
CoronaVirus क्या है। CoronaVirus के लक्षण क्या है। CoronaVirus से कैसे बचे

इसे दो तरह के वायरस है  

  1. मिडिल ईस्ट रेस्पीरस्टोर्य जिसे मेरस कहा जाता है
  2.  जिसे सरस कहा जाता है

मार्स वायरस पहली दफा  2012 सऊदी अरब में सब के सामने आया था उसके बाद ये धरे धीरे दूसरे  देशो जैसे अफ्रीका ,एशिया और यूरोप मरमें फैलने लगा |

सरस वायरस पहली दफा2003 में सबके सामने आया था जिसकी वजह से पूरी दुनिया में 1000 से जयादा लोगो की मौत हुई  पूरी दुनिया में हजारों लोग इस वायरस से स्नक्रीमित हुए

2015 के बाद से क्रो ना   वायरस  के किसी भी वायरस के सामने आने की कोई खबर नहीं आया ,लेकिन दिसम्बर 2019 में  फिर से WHO  ने नए तरह का CRONA  VIRUS की पहचान की जिसका नाम है  NOVEL CORONAVIRUS

ये वायरस भी SARS की तरह ही बहुत ही खतनाक होते हैये बीमारी उत्या पन्न करने के साथ साथ किसी भी प्राणी की जान भी ले लेते है और विस्वा स्वस्थ संगठन  WHO के मुताबिक  यह VIRUS सीस विवे से जुड़ा हुआ है

जरूर पढ़ें ।

गेम डेवलपर (Game Developer) कैसे बनें, (How To Become Game Developer in Hindi)

मदरबोर्ड क्या है ?What is Motherboard in Hindi? मदरबोर्ड काम कैसे करता है ?

चाइना के  बुआन के शीपुर से जुड़ा हुआ हैरान करने वाकई बात ये है की इस वायरस के चपटे में सिर्फ इंसान ही नहीं बल्कि  बहुत सारे जानवर भी हो रहे है । यह वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान और एक जानवर से दूसरे जानवर के संक्रमण से फैलता है  समुद्री जिव जन्तुओ के द्वारा फैलता है

हलाकि कुछ stduy में यह वायरस चमगादड़ में भी पाया गया है  vचमगादड़  को देखा जाइये तोचमगादड़  एक इसा जिव है जिसमे SARS और MARS दोनों तरह का कोरोना वायरस होता है। इससे आप अंदाजा लगाया जा सकता है की ये वायरस जानवरो से इंसानो के अंदर ट्रांफर हो रहे है

कोरोना वायरस की वजह से लोगो के मन इसका दर बस गया है । कोरोना वायरस वहां वायरस भी कहा जा रह है क्योंकि इस वायरस की शुरुआत चीन की वहां शहर से हुई है , लेकिन ये वायरस दूसरे देशों में भी अपना जगह बना रहा है

कारोना वायरस के लक्षण क्या होते है ?

चाइना के गुहान से फैले  कोरोना वायरस के कुल 3000 हजार से जयादा लोगो की मौत हो चुकी है ,और चीन समेत दुनोया भर में इस रोग से पीड़ित कुचल मरीजों की संख्या 350000 से पर जा चुकी है  ,

  1.  कोरोना वायरस की वजह से रेस्प्री सिस्टम  यानि स्वशन तंत्र में इन्फेक्शन हो जाता है जैसा की आम तोर पर सर्दी जुखाम में देखने को मिलता है  ।
  2. इसके आलावा मरीजों में खासी और कफ गले में दर्द साँस लेने में दिक्क्त नाक का लगातार बहाना सरदर्द बुखार का होंना  जैसे लक्षण देखे जाते है ।
  3. इसके बाद ये लखन निमोनिया में बदल जाते है और किडनी को नुकशान पहुंचते है इसमें फेफड़ें में गंभीर रूप का संक्रमण भी हो जाता है
  4. वैसे जिन ब्यक्तियो के कम्युनिटी सिस्टम बहुत कमजोर होता है जैसे की बड़े बुजुर्ग या छोटे  बच्चों में तो उनमे वायरस अटैक के चांस बहुत ज्यादा होते है ।
  5. और वायरस अटैक होने बाद उन्हें काफी गंभीर बीमारियों अपनी चपेट में ले लेती है  जिससे बहुत बड़ी समस्या हो जाती है ।

कोरोना वायरस से बचने के उपाय :

CoronaVirus क्या है? कोरोना वायरस किसी भी तरह कोई ANTICBOTIC दवा काम नहीं करती है । फ्लू में दी जाने वाली ांतिकबोटिक भी इस वायरस को काम करने में किसी तरह से काम नहीं करती है

अभी तक इस वायरस से निजात पाने के लिए  लोई भी vaccine नहीं बनाई गई हैइस वायरस के इलाज के लिए vaccine बनाने का काम वैज्ञानिक कर रहे है और WHO  के मुताबिक इस वायरस से बचने का कोई भी विशेष तरीका विकसित नहीं हो पाया है

लेकिन कुछ सावधानिया बारात कर आप इस वायरस की चपेट में आने  से बच सकते है । और यही है अभी का सबसे बेहतर उपाय  तो चलिए जानते है|

  1. SEA FOOD खाने से बचना चाहिए , क्योंकि यह वायरस   के जरिये ही इंसान तक पंहुचा है ,तो हो सकता है वायरस से संकर्मित समुद्री जिव चीन से दूसरे देशो में भी  प्रवेश कर चेक हो इसलिए आप मछलिये और समुद्री जीवो को खाने से बचे
  2.  कोरोना वायरस से बचने का सबसे अच्छा तरीका है साफ सफाई , इसलिए खाने से पहले अपने हाथ को अच्छे तरीके से धोएं
  3. छींक आने के दौरान अपने नाम को अच्छी तरह से डाक कर रखें
  4. सर्दी और फ्लू के लक्षणों पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें
  5.  अण्डे और मांस अच्छी तरह पकाकर ही उसका सेवन करें ।
  6. कोशिश कीजिये की जानवरों के सीधे संपर्क में ना आये ।
  7.  जब भी आप कही बहार से आये तो आप अपना हाथ पैर साबुन , पानी या हैंड वास् अथवा सेनेटाइजर से साफ करें ।
  8. आप अपने हाथ से बार बार अपने हाथ नाक कानऔर मुँह को ना छुएं ।
  9.  जिन्हे सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण हो उनसे करीबी संपर्क बनाने से बचे ।
  10.  बीमार लोगो लोगो से थोड़ी दुरी बना के रखे ।उनके बर्तनो का इस्तेमाल ना करें या छूने से बचें, इससे मरीज और आप दोनों भी सुरछित रहेंगे ।
  11. जिन देशो में इस वायरस का प्रकोप फैला है आप उन जगहों पर जाने से बचें , चाहे कितना भी जरुरी काम हो ।
  12. घर से आस पास यात्रा करते समय मास्क जरूर लगाए और हाथ में सेनेटाइजर जरूर लगाएं ।

कोरोना का इलाज :

CoronaVirus क्या है? कोरोना का इलाज सामान्य कोल्ड की तरह ही होता है जिसमे जयादा से ज्यादा आराम करने की सलाह दी जाती है  ,

LICVID वाली चीजों का जयादा सेवन करने को कहा जाता है

और बुखार और गला ख़राब की दवा भी दी जाती है , इस तरह वायरस को गंभीर रूप लेने से रोका जा सकता है

a

Leave a Comment