B VOC क्या है? B VOC कैसे करे पूरी जानकारी

इस पोस्ट के माध्यम से आज हम आपको बताएंगे B VOC क्या है? B VOC कैसे करे पूरी जानकारी ? (What is B VOC ? How to do B VOC Complete information in Hindi) हर इंसान यही चाहता है कि वह पढ़ने लिखने के बाद किसी अच्छी जगह पर नौकरी करे जिससे कि वह अपनी जरूरतों को पूरा करने के अलावा अपने परिवार के प्रति जिम्मेदारियां भी उठा सके। इसीलिए 12वीं के बाद छात्र यही कोशिश करते हैं कि वह किसी ऐसे पाठ्यक्रम में दाखिला लें जो उनके लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध करा सके और ऐसा ही एक कोर्स है बीवोक। लेकिन अगर आपको इसके बारे में पता नहीं है तो आपके लिए यह जान लेना जरूरी है कि इसके अंतर्गत किसी भी छात्र को क्या ट्रेनिंग दी जाती है जिससे कि आप भी इस कोर्स को करने के बाद आत्मनिर्भर बन सकें। आवश्यक जानकारी हासिल करने के लिए हमारे इस पोस्ट को सारा जरूर पढ़ें।

B VOC क्या है B VOC कैसे करे
B VOC क्या है B VOC कैसे करे

बीवोक कोर्स क्या होता है (what is B VOC in Hindi)

यहां सबसे पहले जानकारी के लिए बता कि बीवोक का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ वोकेशन (Bachelor of vocation) होता है जो कि एक 3 वर्षीय पाठ्यक्रम है जिसमें जो कैंडिडेट एडमिशन लेते हैं उन्हें कई प्रकार के अलग-अलग स्किल्स सिखाए जाते हैं। इस तरह से इस कोर्स में छात्रों के टैलेंट को निखारने का काम किया जाता है और यह कोशिश की जाती है कि उन्हें कोर्स करने के बाद बेहतरीन रोजगार के मौके मिल सकें। इसलिए विद्यार्थी को अनेकों विषय पढ़ाए जाते हैं जैसे कि –

  • होटल मैनेजमेंट
  • उद्यमिता विकास
  • हेल्थकेयर स्किल
  • मेटल कंस्ट्रक्शन
  • हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट
  • इंजीनियरिंग
  • आर्ट्स
  • कॉमर्स
  • डेरी और फार्मिंग

बीवोक करने के लिए योग्यता (B VOC Eligibility)

  • छात्र ने 12वीं कक्षा पास की हो।
  • विद्यार्थी ने 12वीं में 50 परसेंट से लेकर 55 परसेंट तक अंक हासिल किए हो।
  • या 10वीं के बाद विद्यार्थी ने 2 साल का आईटीआई कोर्स किया हो।

बीवोक कोर्स के फायदे (B VOC Course benefits)

  • इसमें बहुत सारे कोर्स होते हैं जिसकी वजह से छात्र को अपने पसंदीदा क्षेत्र में काम सीखने का अवसर मिलने के अलावा काम करने का मौका भी मिलता है।
  • कैंडिडेट को पढ़ाई करने के साथ-साथ पैसे कमाने का चांस भी मिल जाता है।
  • विद्यार्थी को इतनी नॉलेज हो जाती है कि वह अपना स्वयं का काम भी शुरू कर सकता है।
  • इस कोर्स को करने के बाद छात्र को अपने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी नौकरी करने के लिए अवसर मिलते हैं।

बीवोक कोर्स करने की प्रक्रिया (B VOC Course  Process)  

जो छात्र इस कोर्स को करने की इच्छा रखते हैं उन्हें जानकारी के लिए बता दें कि इसके लिए बहुत सारे कॉलेज हैं जहां पर छात्रों को मेरिट आधार पर दाखिला दे दिया जाता है तो वहीं पर कुछ कॉलेज ऐसे भी हैं जहां पर छात्रों को यूनिवर्सिटी लेवल एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होता है और उसी के बाद ही उन्हें इस पाठ्यक्रम में एडमिशन मिल पाता है।

बीवोक कोर्स सिलेबस (B VOC Course Syllabus)

1st Year

  • इंडियन कल्चर एंड फिलासफी (Indian culture and philosophy)
  • जनरल एजुकेशन कंपोनेंट (General education component)
  • सी++ प्रोग्रामिंग (C++ programming)
  • कम्यूटर बेसिक्स एंड नेटवर्किंग Computer basics and networking)
  • स्किल कंपोनेंट (Skill component)
  • जनरल एजुकेशन कंपोनेंट (General education component)
  • इफेक्टिव हिंदी और फ्रेंच स्किल्स (Effective Hindi or French skills
  • एनवायरमेंट स्टडीज (Environment studies)
  • एडवांस्ड एक्सल (Advanced excel)
  • टैली (Tally)
  • जनरल एजुकेशन कंपोनेंट (General education component)
  • इफेक्टिव इंग्लिश स्किल्स (Effective English skills)
  • ह्यूमन राइट्स (human rights)
  • एमएस ऑफिस (MS Office)

2nd Year

  • सोशल एनालाइजिज़ (Social analysis)
  • एडवांस्ड एसक्यूएल विद ओरेकल (Advanced SQL with Oracle)
  • एचटीएमएल एंड सीएसएस (HTML and CSS)
  • मीडिया स्टडीज एंड सिनेमा (Media studies and cinema)
  • पॉलीटिकल एनालिसिस (Political analysis)
  • सोशल एनालाइजिज़ (Social analysis)
  • इकोनामिक एनालिसिस (Economic analysis)
  • कोरल्ड्रॉ एंड फोटोशॉप (Coreldraw and Photoshop)
  • एनीमेशन यूजिंग माया एंड अदर सॉफ्टवेयर (Animation using Maya and other software)

3rd Year

  • जनरल एजुकेशन कंपोनेंट (general education component)
  • सायकोलॉजी (Psychology)
  • एंटरप्रेन्योरशिप (Entrepreneurship)
  • सॉफ्टवेयर टेस्टिंग (Software testing)
  • पॉपुलर कल्चर (Popular culture)
  • बिजनेस एथिक्स (Business ethics)
  • प्रिंसिपल्स ऑफ़ फाइनेंशियल अकाउंटिंग (Principles of financial accounting)

भारत में बीवोक कॉलेज (B VOC College in India)

  • पारूल यूनिवर्सिटी
  • जैन यूनिवर्सिटी बैंगलोर
  • इंस्टिट्यूट ऑफ़ होटल मैनेजमेंट मुंबई
  • स्वामी विवेकानंद इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी चंडीगढ़
  • मद्रास क्रिश्चियन कॉलेज चेन्नई
  • स्टेला मारिस कॉलेज चेन्नई
  • गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी न्यू दिल्ली
  • जगन्नाथ यूनिवर्सिटी जयपुर
  • सेंट फ्रांसिस कॉलेज फॉर वुमन हैदराबाद
  • ज्योति निवास कॉलेज बेंगलुरु
  • इंटरनेशनल पॉलिटेक्निक फॉर वूमेन न्यू दिल्ली

बीवोक कोर्स करने के बाद कैरियर (Career After B VOC Course)

जो कैंडिडेट बीवोक के 3 वर्षीय पाठ्यक्रम को पूरा कर लेते हैं उसके बाद उन्हें सरकारी विभाग में नौकरी करने के बहुत से अवसर मिलते हैं और इसके अलावा प्राइवेट विभागों में भी कैंडिडेट को अनेकों नौकरियां मिल जाती हैं जैसे कि-

  • मैनेजर
  • कंप्यूटर ऑपरेटर
  • टूल रूम असिस्टेंट
  • बायो केमिस्ट
  • होम इकोनॉमिक्स्ट
  • अकाउंटेंट

बीवोक कोर्स के बाद वेतन (Salary after B VOC Course)

जब विद्यार्थी सफलतापूर्वक अपना बीवोक कोर्स पूरा कर लेते हैं तो उसके तुरंत बाद ही उन्हें हर महीने 15 से लेकर 20 हजार रुपए तक की सैलरी की जॉब मिल जाती है। इस प्रकार जब उसे काम करते हुए थोड़ा सा अनुभव हो जाता है तो तब उसका वेतन भी बढ़ जाता है। इसके अलावा विदेशों में भी आज इसके कोर्स करने वाले छात्रों के लिए बहुत सारी नौकरियां उपलब्ध हैं जहां पर उन्हें वेतनमान भी काफी अधिक मिलता है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको जानकारी दी कि B VOC क्या है? B VOC कैसे करे पूरी जानकारी ? (What is B VOC ? How to do B VOC Complete information in Hindi) इससे जुड़ी हुई सभी महत्वपूर्ण बातें बताएं जैसे कि –

  • बीवोक कोर्स क्या होता है
  • बीवोक करने के लिए योग्यता
  • बीवोक कोर्स के फायदे
  • बीवोक कोर्स करने की प्रक्रिया
  • बीवोक कोर्स सिलेबस
  • भारत में बीवोक कॉलेज
  • बीवोक कोर्स करने के बाद कैरियर
  • बीवोक कोर्स के बाद वेतन

FAQ

Q:  B VOC कोर्स कहां से करना सही है?

Ans: B VOC कोर्स करने के लिए भारत में बहुत सारे इंस्टीट्यूट खुले हुए हैं जहां से कैंडिडेट कोर्स कर सकते हैं। लेकिन जब विद्यार्थी किसी संस्थान में दाखिला ले तो वह उसके बारे में पूरी छानबीन करने के बाद ही उस कॉलेज से अपना कोर्स करें।

Q: B VOC कोर्स का क्या उद्देश्य है?

Ans: इस कोर्स का मुख्य उद्देश्य दुनिया भर में विभिन्न क्षेत्रों के अंदर बहुत सारे रोजगार के मौके पैदा करना है जिसके लिए विद्यार्थी के अंदर छुपे हुए हुनर को बाहर निकालने की आवश्यकता होती है। इसीलिए उसे बेहतरीन और उत्कृष्ट स्किल ट्रेनिंग दी जाती है। ‌

Q: B VOC कितनी अवधि का कोर्स है?

Ans: यह कोर्स 3 साल की अवधि का होता है जिसके अंदर कैंडिडेट को विभिन्न तरह के टेक्निकल कोर्स करवाए जाते हैं जिससे कि वह अपने स्किल का इस्तेमाल करते हुए अपने पैरों पर खड़ा हो सके।

Q: क्या B VOC कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को नौकरी मिल जाती है?

Ans: जी हां यह कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को नौकरी करने के बहुत सारे मौके उपलब्ध हो जाते हैं जिसके अंतर्गत वह अपने देश में काम कर सकता है या अगर वह चाहे तो वह किसी विदेश में जाकर भी नौकरी कर सकता है।

Q: B VOC कोर्स करने के लिए छात्र में कितनी योग्यता होनी जरूरी है?

Ans: B VOC कोर्स करने के लिए यह जरूरी है कि या तो छात्र ने अपनी 12वीं कक्षा पास कर ली हो या जिन छात्रों ने दसवीं क्लास पास करने के बाद 2 साल का आईटीआई किया हो वह भी इस कोर्स को करने के लिए योग्यता रखते हैं।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a