ATM Full Form – एटीएम का फुल क्या फॉर्म है ?

नमस्कार! दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे ATM Full Form के बारे में। दोस्तों वैसे यह नाम आपने अकसर सुना होगा और आप खुद भी इस नाम का प्रयोग हर दिन करते होगे लेकिन अगर आपको इसका पूरा नाम नहीं पता है तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें क्योंकि हम आपको इसका पूरा नाम बताने के साथ-साथ इससे जुड़ी दूसरी अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां भी बताएंगे।

ATM Full Form
ATM Full Form

ATM Full Form – एटीएम का फुल क्या फॉर्म है ?

ATM का फुल फॉर्म होता है ऑटोमेटिड टेलर मशीन (Automated Teller Machine) और इसको हिंदी में स्वचालित टेलर मशीन कहते हैं। जानकारी के लिए बता दें कि इस मशीन का आविष्कार जॉन शेफर्ड बैरोन ने किया था। भारत में पहला एटीएम 1987 में स्थापित किया गया था।

ATM  क्या होता है?

यह एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस मशीन है जिसका प्रयोग पैसों का लेन-देन करने के लिए किया जाता है। इसी की वजह से बैंकिंग प्रक्रिया बहुत अधिक सरल हो गई है क्योंकि इसका प्रयोग करने के लिए ना तो बैंक जाना पड़ता है और ना ही लंबी-लंबी लाइनों में खड़ा रहना पड़ता है।

ATM  के प्रमुख कार्य

  • इसके द्वारा आप अपने बैंक से जमा किए पैसों को निकाल सकते हैं।
  • इसके माध्यम से आप पैसे भी जमा कर सकते हैं।
  • आप इसके द्वारा अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर कर सकते हैं और इसके अलावा मैसेज अलर्ट भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • एटीएम से आप पिन कोड या फिर नया पिन भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • किसी भी दूसरे व्यक्ति के खाते में पैसे डाल सकते हैं।
  • साथ ही इसका प्रयोग करके आप किसी भी संस्था या काम का बिल भी भर सकते हैं।
  • शॉपिंग और खरीदारी के अलावा फीस भी जमा कर सकते हैं।

ATM  के लाभ

  • एटीएम से हर कोई आराम से पैसों का लेन-देन कर सकता है।
  • अपने अकाउंट से पैसे निकालने के लिए बैंक के चक्कर नहीं काटने पड़ते हैं बल्कि बहुत आसानी से एटीएम से पैसे निकाले जा सकते हैं।
  • इसकी सुविधा आपको 24 घंटे मिलती है इसलिए आप जब चाहे पैसे निकाल सकते हैं।
  • इसका प्रयोग करना आसान और सुविधाजनक है इसलिए इसको कोई भी इंसान चाहे वह अनपढ़ हो या पढ़ा लिखा हो बहुत सरलता के साथ इसका प्रयोग कर सकता है।

ATM  के कितने पार्ट्स होते हैं?

एटीएम के दो पार्ट्स होते हैं जिनका प्रयोग आसानी से करके आप इसकी सेवाओं का लाभ ले सकते हैं। इसके पार्ट्स के नाम है इनपुट डिवाइस और आउटपुट डिवाइस।

ATM  के प्रकार

जानकारी के लिए बता दें कि एटीएम के एक नहीं बहुत सारे प्रकार होते हैं जिनका उपयोग करके आप अपनी बैंकिंग को सुविधाजनक बना सकते हैं। एटीएम के विभिन्न प्रकारों के नाम इस प्रकार से हैं-

  • ऑफलाइन एटीएम
  • ऑनसाइट एटीएम
  • ऑफसाइट एटीएम
  • व्हाइट लेबल एटीएम
  • येलो लेबल एटीएम
  • पिंक लेबल एटीएम
  • ऑरेंज लेबल एटीएम
  • ब्राउन लेबल एटीएम

निष्कर्ष

दोस्तों यह था हमारा आज का आर्टिकल जिसमें हमने आपको जानकारी दी ATM Full Form  के बारे में और साथ ही हमने आपको यह भी बताया कि इसका हिंदी में क्या मतलब है। हमें पूरी उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा इसलिए इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ भी शेयर करें।

यह भी पढ़ें

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a

Leave a Comment