आर्मी ऑफिसर (Army Officer) कैसे बनें ?

इस पोस्ट के माध्यम से आज हम आपको बताएंगे आर्मी ऑफिसर (Army Officer) कैसे बनें / how to become army officer? वैसे यहां बता दें कि आर्मी ऑफिसर बन कर कोई भी व्यक्ति स्वयं पर हद से ज्यादा गर्व कर सकता है क्योंकि इस प्रकार उसे अपने देश की सेवा करने का अवसर मिलता है। यदि आप भी एक ऐसे युवा हैं जो अपने देश से बहुत प्रेम करते हैं और इसीलिए आप एक आर्मी ऑफिसर बनना चाहते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आर्मी ऑफिसर बनना आसान नहीं है क्योंकि इसके लिए आपको लिखित परीक्षा में पास होना जरूरी होगा।

लेकिन आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि यदि आपके अंदर दृढ़ इच्छा है तो आप एक आर्मी ऑफिसर जरूर बन सकते हैं जिसके लिए आपको परिश्रम के साथ-साथ कुछ आवश्यक बातों की जानकारी होना जरूरी है। आज के इस पोस्ट के द्वारा हम आपको उन सभी बातों की जानकारी देने वाले हैं इसलिए इसे पूरा पढ़ें।

आर्मी ऑफिसर (Army Officer) कैसे बनें
आर्मी ऑफिसर (Army Officer) कैसे बनें

आर्मी ऑफिसर क्या होता है / (What is Army officer in Hindi)

दोस्तों एक आर्मी ऑफिसर हमारी भारतीय सेना में काम करता है और वह देश की सुरक्षा के लिए दुश्मनों से मुकाबला करता है जिससे कि हम सभी देश के नागरिक सुरक्षित रह सकें। इसके अलावा एक आर्मी ऑफिसर अपने देश को आंतरिक तौर से भी सुरक्षित रखने का कार्य करता है। इस प्रकार से एक आर्मी ऑफिसर का काम अत्यधिक जिम्मेदारी वाला होता है क्योंकि वह अपने देश की रक्षा के साथ-साथ देश के नागरिकों की हिफाजत के लिए भी जिम्मेदार होता है। इसीलिए अगर कोई कैंडिडेट आर्मी ऑफिसर बनना चाहता है तो फिर उसे बहुत ज्यादा कठिन प्रक्रिया से होकर गुजरना पड़ता है और अधिकतर कैंडिडेट चयन प्रक्रिया में कामयाब नहीं हो पाते हैं।

यह भी पढ़ें –

आर्मी में पद कौन-कौन से होते हैं (Ranks in Army)

अब आपको यहां बताते हैं कि अगर आप आर्मी में जाना चाहते हैं तो जानकारी के लिए बता दें कि इसमें बहुत से पद है जहां पर आप नियुक्ति पा सकते हैं और इस प्रकार जब आप कई सालों तक आर्मी में रहेंगे तो फिर आपको किसी ऊंचे रैंक पर नियुक्ति मिल जाती है। आर्मी में बहुत सारे रैंक होते हैं जैसे कि-

  • फील्ड मार्शल (Field marshal)
  • जनरल (General)
  • लेफ्टिनेंट जनरल (Lieutenant General)
  • मेजर जनरल (Major General)
  • ब्रिगेडियर (Brigadier)
  • कर्नल (Colonel)
  • लेफ्टिनेंट कर्नल (Lieutenant Colonel)
  • मेजर (myajor)
  • कप्तान (Captain)
  • लेफ्टिनेंट (Lieutenant)

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए शैक्षिक योग्यताएं / Educational qualifications

  • कैंडिडेट ने किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो।
  • कैंडिडेट ने किसी भी विषय में अपनी 12वीं कक्षा पास की हो इसके लिए जरूरी नहीं है कि उसने किसी विशेष विषय में पढ़ाई की हो।

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक आवश्यकता और योग्यता / Physical Requirements

किसी भी कैंडिडेट में आर्मी ऑफिसर बनने के लिए निम्नलिखित शारीरिक योग्यताएं होनी चाहिए जैसे कि

  • उम्मीदवार की उम्र 16.5 साल से लेकर 19.5 के बीच में होना आवश्यक है।
  • कैंडिडेट की हाइट 157 सेंटीमीटर होनी अनिवार्य है।
  • उम्मीदवार शारीरिक रूप से मजबूत और फिट होना जरूरी है।
  • कैंडिडेट का वजन उसकी लंबाई के अनुपात में हो।

यह भी पढ़ें –नेवी ऑफिसर (Navy Officer) कैसे बने

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए परीक्षाएं / entrance exam for army officer

अगर आप आर्मी ऑफिसर बनना चाहते हैं तो फिर इसके लिए आपको सबसे पहले 12वीं कक्षा पास करनी होगी और उसके बाद आपको नेशनल डिफेंस एकेडमी यानी एनडीए (NDA) की परीक्षा में भाग लेना होगा जो कि हर साल यूपीएससी कंडक्ट कराता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह परीक्षा एक बहुत ही ज्यादा मुश्किल परीक्षा है जिसमें भाग लेने वाले केवल तभी सफल हो पाते हैं जब वह बहुत ज्यादा मेहनत करें। यहां हम आपको एनडीए की परीक्षा की सारी जानकारी विस्तार पूर्वक दे रहे हैं-

एनडीए परीक्षा (NDA Examination)

यूपीएससी के द्वारा आयोजित कराऐ जाने वाली एनडीए की यह परीक्षा दो भागों में बांटी गई है जैसे कि गणित और सामान्य योग्यता। इस परीक्षा में यदि आप शामिल होंगे तो फिर आपको बता दें कि इस परीक्षा का उद्देश्य कैंडिडेट की जनरल नॉलेज और तर्कशक्ति का आंकलन करना होता है। यहां बता दें कि गणित का जो पेपर होता है उसमें कैंडिडेट को 300 अंकों का पेपर करना होता है जिसमें उसको 120 प्रश्नों को हल करना होता है और इसी प्रकार से जनरल एबिलिटी के लिए 600 अंकों का पेपर कैंडिडेट को करना होता है जिसमें 150 प्रश्नों के उत्तर उम्मीदवार को देने होते हैं। इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी होती है इसलिए यह जान लीजिए कि अगर आप किसी प्रश्न का गलत उत्तर देंगे तो फिर आपके मार्क्स भी काट लिए जाएंगे।

एसएसबी इंटरव्यू (SSB Interview)

जब आप लिखित परीक्षा में पास हो जाएंगे तो फिर उसके बाद आपको एसएसबी इंटरव्यू के लिए बुलाएगा जो कि 900 अंको का होगा। यहां आपको बता दें कि इंटरव्यू के दौरान कैंडिडेट से विभिन्न प्रकार के सवाल पूछे जाते हैं जिससे कि उसकी बुद्धिमता व योग्यता को परखा जाता है। यह परीक्षा बहुत ज्यादा कठिन होने के साथ-साथ लंबी भी होती है और यह 4 दिन तक चलती है। एसएसबी इंटरव्यू काफी ज्यादा मुश्किल होता है जिसकी वजह से बहुत सारे कैंडिडेट इसमें शुरू में ही असफल हो जाते हैं। इस परीक्षा के माध्यम से कैंडिडेट के मनोवैज्ञानिक रूप का मूल्यांकन होता है जिसमें सिचुएशन रिएक्शन टेस्ट, चित्र परीक्षण, मेमोरी टेस्ट और ग्रुप डिस्कशन जैसे विषयों को शामिल किया जाता है। अगर उम्मीदवार इस इंटरव्यू परीक्षा में सफल हो जाते हैं तो उसके बाद फिर उनका शारीरिक परीक्षण करवाया जाता है और यदि उसमें भी वह सफल हो जाते हैं तो उसके बाद उन्हें आर्मी की ट्रेनिंग करने के लिए भेज देते हैं जिसके बाद वह आर्मी ऑफिसर बन जाते हैं।

यह भी पढ़ें –आर्मी ऑफिसर (Army Officer) कैसे बनें ?

भारत के टॉप आर्मी कोचिंग सेंटर्स / top 10 army coaching centres in India

हमारे देश भारत में बहुत सारे आर्मी के कोचिंग सेंटर खुले हुए हैं जहां पर आप कोचिंग लेकर एनडीए परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं। आर्मी ऑफिसर बनने के लिए कोचिंग लेना इसलिए जरूरी है क्योंकि इससे आपको परीक्षा का पैटर्न समझने के साथ-साथ आपकी शारीरिक परीक्षण की तैयारी भी उचित तरीके से हो जाएगी। इसके लिए आप भारत के किसी भी कोचिंग संस्थान में दाखिला ले सकते हैं जैसे कि –

  • सिलेक्शन अकैडमी, नोएडा (Selection academy, Noida)
  • द ऑफिसर अकैडमी एंड ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट, मुंबई (The officer Academy and training institute, Mumbai)
  • भारत अकैडमी, फरीदाबाद (Bharat Academy, Faridabad)
  • इंडियन डिफेंस एंड स्पोर्ट्स अकैडमी, कोलकाता (Indian defence and sports academy, Kolkata)
  • डिफेंस अकैडमी, चेन्नई (Defence Academy, Chennai)
  • दून डिफेंस अकैडमी, देहरादून (Doon defence Academy, Dehradun)
  • ओलिव ग्रीन अकैडमी, चंडीगढ़ (Olive green Academy, Chandigarh)
  • तारा इंस्टीट्यूट, दिल्ली (Tara Institute, Delhi)
  • सेंचुरियन डिफेंस अकैडमी, लखनऊ (Centurion defence Academy, Lucknow)

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए पुस्तकें /books and study materials

  • एनसीईआरटी केमिस्ट्री टेक्स्ट बुक्स ऑफ क्लास 11 एंड 12 (NCERT chemistry textbooks of class 11 and 12)
  • एनसीईआरटी फिजिक्स टेक्स्ट बुक्स ऑफ क्लास 11 एंड 12 (NCERT physics textbooks of class 11 and 12)
  • एनसीईआरटी मैथमेटिक्स टेक्स्ट बुक्स ऑफ क्लास 11 एंड 12 (NCERT mathematics textbook of class 11 and 12)
  • एनसीईआरटी टेक्स्ट बुक ऑफ ऑल सब्जेक्ट फ्रॉम क्लास 9 (NCERT  textbooks of all subjects from class 9)
  • लेटेस्ट मनोरमा ईयर बुक (Latest Manorama yearbook)
  • 10 प्रैक्टिस सेट्स फॉर एनडीए एंड एंड बाय अरिहंत पब्लिकेशन (10 practice sets for NDA and NA by arihant publication)
  • एनडीए एंट्रेंस एग्जाम बाय ए एस रामासामी (NDA entrance exam by ES Ramasami)
  • ऑब्जेक्टिव जीके बाय संजीव कुमार (Objective GK by Sanjeev Kumar)
  • वर्ड पावर मेड ईजी बाय नॉर्मन लुईस (Word Power made easy by Norman Lewis)
  • ऑब्जेक्टिव जनरल इंग्लिश बाय एसपी बक्शी (Objective general English by SP bakshi)

यह भी पढ़ें –स्टेशन हाउस ऑफिसर (SHO) कैसे बने ? जानिए

आर्मी ऑफिसर के कार्य और ड्यूटी / works and duties of army officer

जैसा कि हमने आपको उपरोक्त बताया कि एक आर्मी ऑफिसर अपने देश की सुरक्षा के लिए उत्तरदाई होने के साथ-साथ नागरिकों के हितों की रक्षा भी करता है जिसके अंतर्गत उसे अनेकों कार्य करने पड़ते हैं जैसे कि-

  • आर्मी ऑफिसर को अपने देश में शांति के साथ-साथ सुरक्षा भी स्थापित करनी होती है।
  • अपने देश को सभी प्रकार के आंतरिक हमलों से सुरक्षित करने के साथ-साथ बाहरी हमलों से भी सुरक्षा करनी होती है।
  • अपने देश में सुरक्षा और शांति बनाए रखने के लिए देश की सीमाओं को शत्रुओं से बचाने का कार्य करना होता है।
  • यदि देश में कोई प्राकृतिक आपदा आ जाए तो उस समय लोगों की मदद करना और बचाव कार्य करना।
  • राष्ट्र के नागरिकों को आंतरिक हमलों से बचाने का कार्य।

आर्मी ऑफिसर का वेतन / army officer salary

आर्मी ऑफिसर के पद पर काम करने वाले कैंडिडेट को हर महीने लगभग 25 हजार रुपए से 30 हजार रुपए तक की सैलरी मिलती है जिसके साथ साथ दूसरे अन्य सरकारी भत्ते व सुविधाएं भी सरकार द्वारा दी जाती हैं।‌ लेकिन यहां आपको हम बता दें कि एक आर्मी ऑफिसर का वेतनमान सब से ज्यादा इस बात के ऊपर निर्भर करता है कि उसकी कौन से रैंक पर नियुक्ति है क्योंकि हर रैंक के लिए अलग-अलग वेतन का प्रावधान है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि आर्मी ऑफिसर (Army Officer) कैसे बनें / how to become army officer? इस लेख में हमने आपको आर्मी ऑफिसर बनने की पूरी जानकारी दे दी है जैसे कि-

  • आर्मी ऑफिसर क्या होता है
  • आर्मी में पद
  • आर्मी ऑफिसर बनने के लिए शैक्षिक आवश्यकताएं
  • आर्मी ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक आवश्यकताएं
  • आर्मी ऑफिसर बनने के लिए परीक्षाएं
  • भारत के टॉप आर्मी कोचिंग सेंटर्स
  • आर्मी ऑफिसर बनने के लिए पुस्तकें
  • आर्मी ऑफिसर के कार्य
  • आर्मी ऑफिसर का वेतन

FAQ

Q: आर्मी ऑफिसर कौन होता है?

Ans: आर्मी ऑफिसर भारतीय सेना में काम करने वाला एक ऐसा कैंडिडेट होता है जिसके ऊपर देश की और देश के नागरिकों की सुरक्षा रख करने की जिम्मेदारी होती है।

Q: अगर कोई कैंडिडेट एनडीए एग्जाम में फेल हो जाए तो क्या तब वह आर्मी जॉइन कर सकता है?

Ans: जी नहीं क्योंकि आर्मी में उम्मीदवार की शारीरिक और मानसिक फिटनेस अत्याधिक महत्वपूर्ण होती है इसलिए अगर कैंडिडेट एनडीए एग्जाम के किसी एक चरण में भी असफल हो जाता है तो फिर उसे आर्मी में जाने का मौका नहीं मिलता है।

Q: आर्मी में जाने के लिए किसी भी कैंडिडेट में कौन-कौन सी योग्यताएं होना अत्यधिक अनिवार्य है?

Ans: आर्मी ऑफिसर के ऊपर क्योंकि देश की और नागरिकों की सुरक्षा का उत्तरदायित्व होता है इसलिए जो उम्मीदवार आर्मी जॉइन करना चाहते हैं उनके मन में सबसे पहले अपने देश से अत्यधिक प्रेम भावना होनी चाहिए और इसके साथ साथ वह मानसिक रूप से भी बहुत ज्यादा मजबूत होने चाहिए।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a