एएनएम कोर्स (ANM Course) कैसे करें? Complete Information

इस पोस्ट के माध्यम से आपको जानकारी देंगे एएनएम कोर्स (ANM Course) कैसे करें?, How to do ANM course in Hindi? ANM course full complete information in Hindi, बहुत सारे युवा आज मेडिकल लाइन में जाना जाते हैं और इसीलिए वह काफी अधिक प्रयास भी करते हैं परंतु लगातार कोशिश  करके भी वह सफल नहीं हो पाते जिसकी वजह होती है कि उन्हें उससे संबंधित सभी बातें मालूम नहीं होती है। तो इसलिए किसी भी छात्र के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि सबसे पहले उसके बारे में सभी बातों की जानकारी प्राप्त करें और फिर उस फील्ड में जाने के लिए जो भी प्रक्रिया है उसे अपनाएं। तो अगर आप भी एक ऐसे छात्र है जो मेडिकल लाइन में जाना चाहते हैं तो हमारे आज के इस लेख को सारा जरूर पढ़ें क्योंकि सारी जानकारी हम इस पोस्ट के द्वारा देने वाले हैं।

एएनएम कोर्स (ANM Course) कैसे करें
एएनएम कोर्स (ANM Course) कैसे करें

एएनएम क्या है (What is ANM in Hindi)

यह एक ऐसा प्रोफेशन है जो मेडिकल की लाइन से जुड़ा हुआ है और इसका पूरा नाम ऑग्ज़ीलियरी नर्स मिडवाइफरी (auxiliary nurse midwifery) होता है। इस क्षेत्र में जो कैंडिडेट काम करते हैं वह अस्पतालों में मरीजों की देखभाल करने के साथ-साथ गर्भावस्था के दौरान महिलाओं की भी मदद और देखभाल करते हैं। आमतौर पर एएनएम के लिए लोग नर्स शब्द का प्रयोग करते हैं। जो छात्र कोर्स करके इस फील्ड में जाना चाहते हैं उन्हें इसके लिए 2 साल का डिप्लोमा लेना होता है जिसके बाद उन्हें किसी भी अस्पताल और नर्सिंग होम में कार्य करने का अवसर मिलता है जिसके अंतर्गत वह डॉक्टरों के साथ मिलकर टीकाकरण, महिलाओं की प्रसूति, मरीजों की देखरेख, पेशेंट के बारे में संपूर्ण विवरण भरने के साथ-साथ दूसरे भी बहुत सारे काम करते हैं।

एएनएम कोर्स के लिए योग्यता -(ANM Course Eligibility)

एएनएम कोर्स के लिए जो योग्यता रखी गई है उसकी जानकारी निम्नलिखित है-

  • इच्छुक उम्मीदवार की उम्र कम से कम 17 साल होनी चाहिए और अधिकतम आयु 35 साल तक होनी आवश्यक है।
  • छात्र ने किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 12वीं कक्षा पास की हो या उसके समकक्ष।
  • जो छात्र जनरल कैटेगरी के हैं उनके 12वीं में 45% अंक आना बेहद अनिवार्य है।
  • एससी और एसटी श्रेणी के उम्मीदवारों के अंक 40% होने आवश्यक हैं।

यह भी पढ़ें –

एएनएम कोर्स इंस्टीट्यूट (ANM Course Institute)

हमारे देश में एएनएम कोर्स के लिए बहुत सारे संस्थान हैं जहां से कैंडिडेट अपना कोर्स कर सकते हैं जैसे कि-  

  • मालवा इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ साइंस पंजाब (Malwa Institute of health science Punjab)
  • विजयलक्ष्मी कॉलेज ऑफ नर्सिंग ग्वालियर (Vijay laxmi College of Nursing Gwalior)
  • ट्रिबा कॉलेज ऑफ नर्सिंग रांची (Triba College of Nursing Ranchi)
  • केडीए नर्सिंग कॉलेज मुंबई (KDA Nursing College Mumbai)
  • कमला नेहरु ग्रुप ऑफ़ इंस्टिट्यूशन सुल्तानपुर (Kamla Nehru group of institutions sultanpur)
  • भारतीय विद्यापीठ पुणे (Bhartiya vidyapeeth Pune)
  • सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज पुणे (Sashastra bal Medical College Pune)
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज तमिलनाडु (Christian Medical College Tamil Nadu)
  • श्री रामचंद्र विश्वविद्यालय तमिल नाडु (Sri Ramachandra vishwavidyalay Tamil Nadu)
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज चेन्नई  (Madras Medical College Chennai)
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च पांडिचेरी (Jawaharlal Institute of postgraduate Medical Education and research puducherry)

एएनएम कोर्स सिलेबस -(ANM Course Syllabus)

जब कोई कैंडिडेट नर्स बनने के लिए एएनएम कोर्स में दाखिला लेता है तो तब उसे 2 साल के दौरान विभिन्न प्रकार के विषय पढ़ाए जाते हैं जिससे कि वह मेडिकल लाइन में परफेक्ट हो सकें और अपना कार्य भी उचित तरीके से करने में सक्षम बनें।

फर्स्ट ईयर सिलेबस (First Year Syllabus)

  • हेल्थ प्रमोशन (Health promotion)
  • कम्युनिटी हेल्थ नर्सिंग (Community health nursing)
  • प्राइमरी हेल्थ केयर नर्सिंग (Primary health care nursing)
  • चाइल्ड हेल्थ नर्सिंग (Child health nursing)

सेकंड ईयर सिलेबस (2nd year syllabus)

  • मिडवाइफरी (Midwifery)
  • हेल्थ सेंटर मैनेजमेंट (Health Centre management)

यह भी पढ़ें –

एएनएम कोर्स फीस -(ANM Course Fees)

आज हमारे देश भारत में बहुत सारे इंस्टिट्यूट है जहां पर एएनएम कोर्स करवाए जाते हैं और इसीलिए इस कोर्स के लिए हर इंस्टिट्यूट में फीस भी अलग-अलग रखी गई हैं। अगर कोई कैंडिडेट किसी प्राइवेट इंस्टिट्यूट से इस कोर्स को करेगा तो तब उसे कुछ ज्यादा ही फीस देनी पड़ सकती है लेकिन आमतौर पर इस कोर्स को करने के लिए उम्मीदवार को लगभग 10,000 से लेकर 5 लाख रुपए तक की फीस देनी पड़ जाती है।

एएनएम कोर्स करने के बाद सैलरी- (Salary after ANM Course)

जब छात्र एएनएम कोर्स को पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद उसका वेतन सबसे अधिक डिपेंड करता है कि वह सरकारी अस्पताल में काम कर रहा है या फिर किसी प्राइवेट अस्पताल में। इसके साथ-साथ उसका वेतनमान उसकी योग्यता के ऊपर भी अत्याधिक निर्भर करता है। वैसे एक एएनएम कैंडिडेट को हर महीने 20 हजार रुपए से लेकर 30 हजार रुपए तक का सैलेरी पैकेज मिल जाता है और यदि कैंडिडेट अपना का बहुत ही ज्यादा कुशलता के साथ करता है तो तब उसको इससे भी ज्यादा वेतन मिल सकता है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट के द्वारा हमने आप को जानकारी दी कि एएनएम कोर्स (ANM Course) कैसे करें?, How to do ANM course in Hindi? ANM course full complete information in Hindi,इससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण बातों को भी बताया जैसे कि-

  • एएनएम क्या है (what is ANM in Hindi)
  • एएनएम कोर्स के लिए योग्यता / ANM course eligibility
  • एएनएम कोर्स इंस्टीट्यूट / ANM course Institute
  • एएनएम कोर्स सिलेबस / ANM Course Syllabus
  • एएनएम कोर्स करने के बाद सैलरी / salary after ANM course
  • एएनएम कोर्स करने के बाद सैलरी / salary after ANM course

FAQ

Q: क्या एएनएम कोर्स केवल महिलाएं कर सकती हैं?

Ans: इस कोर्स को महिलाओं के साथ-साथ पुरुष भी कर सकते हैं। हालांकि पहले इस क्षेत्र में केवल महिलाएं ही अपना कैरियर बनाया करती थी लेकिन मेल कैंडिडेट भी अब इस क्षेत्र में काफी तेजी के साथ वृद्धि कर रहे हैं। इसलिए अगर कोई पुरुष इस क्षेत्र में आना चाहता है तो वह इससे संबंधित कोर्स करके काम कर सकता है।

Q: एएनएम कोर्स कैसे करें?

Ans: इस कोर्स को वही कर सकते हैं जिन्होंने अपनी 12वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी कर ली हो। कैंडिडेट का किसी विशेष विषय में 12वीं पास करना अनिवार्य नहीं है। जब छात्रों की पढ़ाई पूरी हो जाए तो उसके बाद वह उन इंस्टीट्यूट में जाकर संपर्क करें जो इस कोर्स को करवाते हैं और एएनएम कोर्स में दाखिला लेकर इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं।

Q: एएनएम कोर्स करने के बाद कैरियर संभावनाएं क्या क्या है?

Ans: एएनएम कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को सरकारी सेक्टर में नौकरी करने के अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी नौकरी के बहुत मौके मिलते हैं जैसे कि-

  • नर्सिंग होम
  • प्राइवेट हॉस्पिटल
  • एजुकेशनल इंस्टीट्यूट
  • सरकारी हॉस्पिटल
  • सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र
  • डिफेंस सेक्टर
  • रेलवे सेक्टर इत्यादि।

Q: एएनएम के कार्य क्या होते हैं?

Ans: एएनएम नर्स को अस्पतालों में रोगियों की देखभाल करने के साथ-साथ पेशेंट को दवाई देने का काम करना होता है। इसके अलावा मरीजों के रिकॉर्ड को मेंटेन करने का काम भी एएनएम नर्स का ही होता है और जो महिलाएं गर्भवती होती हैं उनकी देखभाल की जिम्मेदारी भी एएनएम नर्स की होती है।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a

Leave a Comment