एनीमेशन डिजाइन (Animation Design Course) कैसे करें? Full Information

इस पोस्ट के माध्यम से आज हम बताएंगे एनीमेशन डिजाइन (Animation Design Course) कैसे करें? Full Information I How to do Animation Design Course Full Information in Hindi I Animation design course in Hindi, आज के समय में टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में ही अधिकतर छात्र अपना कैरियर बनाना पसंद करते हैं और ऐसे में यदि कोई छात्र क्रिएटिव है और उसके अलावा उसे एनिमेशन क्रिएट करने में रुचि भी है तो फिर वह इस फील्ड में जा सकता है।‌

आमतौर पर कोई भी कैंडिडेट अपनी 12वीं कक्षा को पहले पूरा करता है और उसके बाद कोई ऐसा कोर्स तलाश करता है जिसको करने के बाद उसे बहुत ही आसानी के साथ जॉब मिल जाए। ‌एनिमेशन डिजाइन कोर्स एक ऐसा ही कोर्स है जिसको करने के तुरंत बाद ही कैंडिडेट को काम मिल जाता है। यदि आपको इसके बारे में सारी जानकारी चाहिए तो हमारे इस लेख को सारा जरूर पढ़ें।

एनीमेशन डिजाइन (Animation Design Course) कैसे करें
एनीमेशन डिजाइन (Animation Design Course) कैसे करें

एनिमेशन डिजाइन कोर्स क्या है (what is animation design course in Hindi)

एनीमेशन डिजाइन कोर्स एक ऐसा कोर्स है जिसमें पेंटिंग या ड्राइंग की किसी प्रक्रिया में मोशन और चाल का एहसास होता है। इसलिए इस कोर्स के तहत ट्रेडिशनल एनिमेशन सिखाने के साथ-साथ 2D वेक्टर बेस्ड एनीमेशन, 3D कंप्यूटर एनीमेशन और स्टॉप मोशन भी सिखाया जाता है। इसमें डिप्लोमा या फिर डिग्री कोर्स किया जा सकता है। इस प्रकार डिप्लोमा 1 साल का होता है और इसमें डिग्री कोर्स 3 साल का है।

यह भी पढ़ें –

एनिमेशन डिजाइन कोर्स के लिए योग्यता (animation design course eligibility)

इस कोर्स के लिए छात्र में निम्नलिखित योग्यता होनी आवश्यक है जैसे कि-

  • किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से छात्र ने 12वीं कक्षा पास की हो।
  • 12वीं क्लास में छात्र के कम से कम 45% अंक होने आवश्यक हैं।‌
  • बेसिक कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए।
  • कैंडिडेट को अंग्रेजी भाषा का ज्ञान भी होना जरूरी है।

भारत में एनिमेशन डिजाइन कोर्स इंस्टीट्यूट (animation design course institute in India)

भारत में एनिमेशन कोर्स करने के लिए बहुत सारे इंस्टिट्यूट है जहां से कैंडिडेट अपना कोर्स कर सकते हैं जैसे कि –

  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन अहमदाबाद (National Institute of Design Ahmedabad)
  • फिल्म एंड टेलिविजन इंस्टीट्यूट आफ इंडिया पुणे (Film and television Institute of India Pune)
  • बिरला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी जयपुर (Birla Institute of Technology Jaipur)
  • नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ फिल्म एंड फाइन आर्ट्स कोलकाता (National Institute of film and fine arts Kolkata)
  • वर्ल्ड यूनिवर्सिटी आफ डिजाइन (World University of design)
  • फ्रेमबॉक्सएक्स एनीमेशन एंड विजुअल इफैक्ट्स मुंबई (Frameboxx animation and visual effects Mumbai)
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन अहमदाबाद (National Institute of Design Ahmedabad)
  • पिकासो एनीमेशन कॉलेज नोएडा (Picasso animation college Noida)
  • अरेना मल्टीमीडिया एंड एनीमेशन दिल्ली (Arena Multimedia and animation Delhi)

एनिमेशन डिजाइन कोर्स सिलेबस ( animation design course syllabus)

एनीमेशन डिजाइन कोर्स के अंतर्गत कैंडिडेट को जो सिलेबस पढ़ाया जाता है उसकी जानकारी निम्नलिखित है-

  • हिस्ट्री ऑफ एनिमेशन (History of animation)
  • मीडिया इनकोडर (Media encoder)
  • कैरक्टर मॉडलिंग एंड रिगिंग (Character modelling and rigging)
  • कीइंग (Keyin)
  • वीडियो एडिटिंग एंड कंपोजिटिंग (Video editing and compositing)
  • कलर सेंसिंग (Colour sensing)
  • इंट्रोडक्शन टु 2D एनिमेशन (Introduction to 2D animation)
  • डिजिटल मेथोडोलॉजी साउंड्स एंड ऑडियो (Digital methodologies sounds and audio )
  • पोर्टफोलियो डेवलपमेंट्स (Portfolio developments)
  • रेंडर लेयर (Render layer)
  • डिजिटल मेथोडोलॉजी लाइटिंग एंड टेक्सचरिंग (Digital methodology lighting and texturing)
  • एप्पल फाइनल कट प्रो (Apple final cut Pro)
  • 3D एनिमेशन (3D animation)

यह भी पढ़ें –

एनिमेशन डिजाइन कोर्स फीस ( animation design course fees

एनिमेशन डिजाइन कोर्स फीस डिप्लोमा कोर्स के लिए कम होती है और डिग्री कोर्स के लिए अधिक। इसके अलावा अगर कोई छात्र प्राइवेट इंस्टिट्यूट से कोर्स करता है तो तब उसको थोड़ी ज्यादा फीस देनी होती है क्योंकि सरकारी संस्थान की फीस निजी संस्थान के मुकाबले बहुत ही कम होती है। इसलिए इस कोर्स को करने के लिए कैंडिडेट 40 हजार रुपए से 80 हजार रुपए तक की फीस देनी होती है जो कि पूरी तरह से कैंडिडेट के संस्थान और कोर्स की अवधि के ऊपर डिपेंड करती है।

एनिमेशन डिजाइन कोर्स करने के बाद नौकरी के अवसर – job opportunities after animation design course

यह कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को नौकरी करने के लिए बहुत सारे अवसर मिलते हैं क्योंकि इस फील्ड में जॉब की बिल्कुल भी कमी नहीं है। इस प्रकार जब कोई कैंडिडेट अपना कोर्स पूरा कर लेता है तब उसको वेब डिजाइनिंग, एनिमेशन वीडियो, विज्ञापन, सीरियल, एनिमेशन टीवी और कार्टून चैनल के अलावा गेम बनाने की नौकरी करने का मौका मिलता है।

वेतन (Salary)

इस कोर्स को करने के बाद कैंडिडेट को हर महीने 15 हजार रुपए से 20 हजार रुपए तक का वेतन मिल जाता है जो कि पूरी तरह से कैंडिडेट की योग्यता और अनुभव के ऊपर निर्भर होता है। साथ ही साथ आपको यह भी बता दें कि जब इस क्षेत्र में आपको कुछ सालों का एक्सपीरियंस हासिल हो जाएगा तब उसके बाद आप हर महीने 80 हजार से लेकर एक लाख रुपए तक भी कमा सकते हैं।

निष्कर्ष

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको जानकारी दी कि एनीमेशन डिजाइन (Animation Design Course) कैसे करें? Full Information I How to do Animation Design Course Full Information in Hindi I Animation design course in Hindi,इसके साथ साथ हमने सभी महत्वपूर्ण बातों की जानकारी दी जैसे कि-

FAQ

Q: एनिमेशन डिजाइन कोर्स कैसे करें?

Ans: इसके लिए कैंडिडेट को सबसे पहले अपने स्कूल की पढ़ाई पूरी करनी होगी यानी कि उसे 12वीं कक्षा पास करने होगी। उसके बाद कैंडिडेट विभिन्न कंप्यूटर संस्थानों में जाकर इस कोर्स से संबंधित सारी अनिवार्य बातों की जानकारी हासिल करें जैसे की फीस, कोर्स की अवधि, इंस्टीट्यूट का प्लेसमेंट रिकॉर्ड इत्यादि। इस प्रकार आप एनिमेशन डिजाइन कोर्स करने के बाद अपना कैरियर बना सकते हैं।

Q: एनिमेशन डिजाइन कोर्स करने के लिए छात्र का क्रिएटिव होना जरूरी है?

Ans: जी हां क्योंकि यह एक ऐसा कोर्स है जिसके अंदर अगर छात्र क्रिएटिव ना हो तो तब वह क्षेत्र में आगे तक नहीं जा सकता। इसके अलावा यदि कोई छात्र बिल्कुल भी क्रिएटिव ना हो और वह इस कोर्स में एडमिशन ले लेता है तो तब वह इस कोर्स को ठीक से नहीं कर पाता क्योंकि इसको सीखने के लिए क्रिएटिविटी पहली शर्त है।

Q: एनिमेशन डिजाइन में क्या कैरियर स्कोप है?

Ans: इसमें कोई शक नहीं कि एनिमेशन इंडस्ट्री पूरी दुनिया में ही बहुत तेजी के साथ उभर रही है। ऐसे में अगर कोई छात्र एनिमेशन डिजाइन कोर्स कर लेता है तो तब उसको भारत में जॉब करने की बहुत सारी संभावनाएं हैं और इसके साथ-साथ विदेशों में भी रोजगार मिल सकता है। इस तरह कैंडिडेट को बहुत ही बेहतरीन भविष्य बनाने का अवसर मिल जाता है जिसमें लगातार वह तरक्की करते हुए आगे भी बढ़ते हैं। ‌

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a