12th टापर कैसे बनें? 12th टॉप कैसे करें?

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएंगे 12th टापर कैसे बनें? 12th टॉप कैसे करें? हर विद्यार्थी यह चाहता है कि वह अपनी क्लास में टॉप करें जिससे कि उसे आगे उच्च शिक्षा हासिल करने में किसी प्रकार की समस्या ना हो और रिश्तेदारों में और समाज में उसकी इज्जत भी हो। परंतु 12वीं क्लास में टॉप करना कोई आसान काम नहीं है क्योंकि इसके लिए अनथक मेहनत के साथ साथ उचित रणनीति भी बनानी होगी क्योंकि अगर छात्र सही दिशा में परिश्रम नहीं करेंगे तो तब वह टॉपर नहीं बन सकते। अगर आप भी12वीं कक्षा में टॉप करना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आप सही दिशा में मेहनत करें लेकिन अगर आपको यह समझ में नहीं आ रहा कि आप किस प्रकार से एक टॉपर बन सकते हैं तो हमारे आज के इस पोस्ट को सारा जरूर पढ़ें।

12th टापर कैसे बने
12th टापर कैसे बने

सारे सिलेबस को समझें

छात्र को चाहिए कि अपनी बारवी कक्षा के संपूर्ण सिलेबस को ठीक प्रकार से समझें। इसके लिए आप अपने स्कूल के टीचर की सहायता ले सकते हैं या आप सीबीएसई/स्टेट बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर भी सिलेबस जान सकते हैं। आपको अपने पाठ्यक्रम में दिए गए सभी विषयों की पढ़ाई ठीक प्रकार से करनी होगी।

टॉपिक्स को अलग-अलग बांटे

जब आपको अपना सारा पाठ्यक्रम पता चल जाए तो उसके बाद सबसे पहले आप यह देखें कि आपको कौन सा विषय सबसे ज्यादा आसान लगता है और कौन सा सब्जेक्ट सबसे ज्यादा मुश्किल लगता है। ‌इसलिए जो विषय आपके लिए कठिन है उसकी पढ़ाई ज्यादा करें परंतु जिस सब्जेक्ट में आप अच्छे हैं उसे भी बिल्कुल अनदेखा ना करें और हर दिन थोड़ी देर उसकी भी पढ़ाई करें।

टाइम मैनेजमेंट करें

अगर 12th क्लास में आपको टॉप करना है तो इसके लिए जरूरी है कि आप टाइम मैनेजमेंट करना सीखें क्योंकि यह आपको टॉपर बनाने में काफी ज्यादा सहायता करेगा। समय प्रबंधन के लिए आप एक टाइम टेबल बनाएं जिसमें स्टडी किए जाने वाले सभी सब्जेक्ट के टाइम के बारे में लिखें कि कौन से समय आपको कौन सा विषय पढ़ना है और हर दिन उसी टाइम टेबल को फॉलो करें।

सेल्फ स्टडी पर दें ज्यादा ध्यान

बहुत सारे छात्र ऐसे होते हैं जो यह समझते हैं कि अगर वह 12वीं कक्षा में किसी कोचिंग को ज्वाइन कर लेंगे तो तब वह टॉपर बन जाएंगे लेकिन यह पूरी तरह से बिल्कुल गलत है। ऐसे बहुत सारे विद्यार्थी होते हैं जो उत्कृष्ट कोचिंग में पढ़ाई करने के बावजूद भी दूसरों से काफी अधिक पीछे रह जाते हैं तो इसलिए बेहतर यही होगा कि आप स्वयं के ऊपर भरोसा करते हुए सेल्फ स्टडी पर ज्यादा फोकस करें।

स्टडी मैटेरियल्स एंड बुक्स

आप अपने 12वीं क्लास के बोर्ड की पढ़ाई ठीक प्रकार से करें इसलिए जरूरी है कि आप कुछ किताबों को भी खरीदें जो कि आपको अच्छे नंबर लाने में मदद करेंगी इसके लिए आप अपने अध्यापक की सहायता ले सकते हैं। इसके साथ-साथ एनसीईआरटी की किताबों को भी अवॉइड ना करें और कोशिश करें कि आप सारे विषयों को ठीक प्रकार से कवर कर लें। यहां आप यह भी जान लीजिए कि अगर 12th क्लास के बाद आपको किसी एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना पड़ा तो तब आपकी 12वीं क्लास का एनसीईआरटी का सिलेबस आपके बहुत काम आएगा क्योंकि अधिकतर प्रवेश परीक्षाओं में उन्हीं में से प्रश्न पूछे जाते हैं।

ब्रेक भी लें

यह सच है कि अगर किसी छात्र को टॉपर बनना है तो उसके लिए उसे बहुत ही ज्यादा लगन और मेहनत के साथ पढ़ाई की आवश्यकता होती है। लेकिन हर समय पढ़ते रहने से कैंडिडेट का मस्तिष्क काफी अधिक थक सकता है और वह अपनी परीक्षा की तैयारी फिर ठीक से नहीं कर सकता तो इसलिए बेहतर है कि पढ़ाई के दौरान थोड़ी थोड़ी देर के लिए ब्रेक जरूर लेना चाहिए जिससे कि छात्र नई स्फूर्ति और एनर्जी के साथ पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित कर सके। इसके लिए आप ऐसा करें कि हर 2 घंटे बाद कम से कम 15 मिनट का एक ब्रेक अवश्य लें। ब्रेक टाइम में स्टूडेंट को चाहिए कि वह अपना पसंदीदा काम करें जिससे उसे आराम मिले।

सुबह के समय याद करें

इस बात का ध्यान रखें कि जो सब्जेक्ट भी छात्र को याद करने हैं उन्हें हमेशा सुबह के समय ही याद करें। सुबह का समय ऐसा समय होता है जब स्टूडेंट का दिमाग पूरी तरह से ताजा होता है जिसकी वजह से वह बहुत तेजी और अच्छी तरह से अपना याद करने का काम कर सकता है।

नियमित स्कूल जाएं

बहुत से छात्र ऐसे भी हैं जो 12वीं में टॉपर तो बनना चाहते हैं लेकिन उन्हें अगर कोई सब्जेक्ट पसंद नहीं होता तो उस दिन वह स्कूल जाना नहीं चाहते जो कि ठीक बात नहीं है। अगर 12वीं में श्रेष्ठ प्रदर्शन करना है तो वह तभी हो सकता है जब विद्यार्थी रोज स्कूल जाए और वहां अध्यापकों के साथ अपनी पढ़ाई को डिस्कस करें।

विषयों के बेसिक्स पर मज़बूत पकड़ बनाएं

टोपर बनने के लिए यह भी महत्वपूर्ण है कि हर सब्जेक्ट के सभी बेसिक सिद्धांतों के ऊपर भी छात्र की पकड़ मजबूत हो। ऐसा करना इसलिए जरूरी है क्योंकि बोर्ड के पेपरों में बेसिक बातों को भी छात्रों से घुमा फिरा के पूछा जाता है जिससे कि छात्र कंफ्यूज हो जाते हैं और सही जवाब नहीं दे पाते।

पाठ्यक्रम दोहराते रहें

जो भी विषय आपने पढ़ लिए हैं उन्हें आप लगातार दोहराते रहें ऐसा करना इसलिए जरूरी है क्योंकि अगर आपने एक चैप्टर पढ़ लिया है और अगर उसे आप रिवाइज नहीं करेंगे तो आप उसे भूल सकते हैं जिसकी वजह से आपको परीक्षा के समय प्रश्न हल करने में काफी अधिक समस्या हो सकती है।

सैंपल पेपर्स हल करें

सैंपल पेपर्स हल करना भी बहुत ज्यादा जरूरी है क्योंकि इससे एक तो आपको परीक्षा का पैटर्न पता चलेगा और दूसरा उत्तर हल करने की स्पीड में भी वृद्धि होगी। इसलिए जब भी आप सैंपल पेपर हल करें तो उस समय आप इसे पेन और पेपर पर लिख कर सॉल्व करें।

स्वयं के लिए नोट्स बनाएं

यूं तो आपको मार्केट में बहुत सारे स्टडी मेटेरियल के ऑप्शन मिल जाएंगे लेकिन अगर आप अपने हाथ से अपने लिए नोट्स बनाएंगे तो वह आपके लिए बेहद लाभदायक सिद्ध होंगे क्योंकि इससे एक तो आप पूरा पाठ्यक्रम समझ जाएंगे और दूसरा आपको लर्निंग में भी आसानी होगी। इस प्रकार आप अपने द्वारा बनाए गए नोट्स को काफी ज्यादा लंबे समय के लिए याद भी रख सकेंगे।

निष्कर्ष

इस पोस्ट के द्वारा हमने आपको बताया 12th टोपर कैसे बनें? 12th टॉप कैसे करें?इससे संबंधित महत्वपूर्ण सारी बातें बता दी हैं जो कि आपके लिए काफी ज्यादा लाभदायक होंगी और अगर आप 12वीं क्लास में टॉपर बनना चाहते हैं तो आपकी रणनीति बनाने में भी यह पोस्ट मदद करेंगी। इस लेख में हमने आपसे जो भी बातें शेयर की है अगर आप उन्हें फॉलो करेंगे तो आपको 12वीं क्लास में टॉप करने से कोई भी नहीं रोक सकता इसलिए अगर आप यह चाहते हैं कि दूसरे छात्र भी 12वीं में अच्छे अंक हासिल करें तो हमारे इस पोस्ट को उनके साथ भी जरूर शेयर करें।

FAQ

Q: 12th में टोपर कैसे बनें?

Ans: इसके लिए जरूरी है कि सभी सब्जेक्ट्स की तैयारी ध्यान से करें और अपनी सोच को भी सकारात्मक बनाएं रखें। अपनी पढ़ाई करने के लिए टाइम मैनेजमेंट का इस्तेमाल करें और जिस विषय में आप कमज़ोर हैं उस पर ज्यादा ध्यान दें। पूरा सिलेबस कवर करें और दोहराना बिल्कुल ना भूलें।

Q:  क्या 12वीं कक्षा में टॉप करने के लिए कोचिंग लेना जरूरी है?

Ans: जी नहीं, यह जरूरी नहीं है कि जो छात्र 12वीं क्लास में ट्यूशन जाते हैं वही टॉप करते हैं। इसके लिए छात्र को स्वयं ही मेहनत करनी होगी और पढ़ाई के लिए रणनीति भी उसे खुद बनानी होगी।

Q: 12th में टोपर बनने के क्या फायदे हैं?

Ans: जो विद्यार्थी 12वीं में टोपर बनते हैं उन्हें इसके बहुत सारे फायदे मिलते हैं जैसे कि उन्हें किसी अच्छे कॉलेज में आगे की पढ़ाई करने के लिए एडमिशन मिल जाता है और इसके अलावा सभी उनको प्रशंसा की दृष्टि से देखते हैं। इस प्रकार वो अपना कैरियर बेहतरीन तरीके से बना सकते हैं क्योंकि हर संस्थान यही चाहता कि वहां पर श्रेष्ठ छात्र पढ़ाई करने के लिए आएं।

HindiHelpAdda.Com के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. यहाँ पर हम हिंदी में पैसे कैसे कमाएँ, ब्लॉगिंग, कैरियर ,टेक्नोलॉजी, इन्टरनेट, सोशल मीडिया, टिप्स ट्रिक, फुल फॉर्म और बहुत कुछ जानकारी हिंदी में साझा करते है। आप सभी का HindiHelpAdda.Com से जुड़ने के लिए दिल से धन्यवाद्।।

a

Leave a Comment